समस्तीपुर :रेलवे इंजीनियर पहुंचे रेलवे लाइन का सर्वे करने, ग्रामीणों ने बच्चा चोर बताकर धुन दिया

| September 9, 2019

बदमाशों ने अफवाह फैला दी कि वे दोनों बच्चा चोर हैं, गांव के लोगों ने बिना कोई पूछताछ किए जमकर पिटाई की

समस्तीपुर: – मॉब लिंचिंग (Mob Lynching) की घटनाएं इस कदर बेकाबू होती जा रही हैं कि कहीं भी कोई इसका शिकार बन रहा है. समस्तीपुर में बच्चा चोर समझकर रेलवे के दो इंजीनियरों की लोगों ने जमकर धुनाई कर दी. वे रेलवे लाइन के लिए सर्वे करने आए थे. बदमाशों ने अफवाह फैला दी कि वे दोनों बच्चा चोर हैं. इसके बाद ग्रामीणों ने बिना कोई पूछताछ किए उन दोनों को जमकर पीटा. उन्हें जब पुलिस को सौंपा गया तब जाकर असलियत सामने आई. फिलहाल पुलिस उन दोनों से लिखित शिकायत मांग रही है ताकि मामला दर्ज किया जा सके.







घटना के संबंध में बताया जाता है कि बंगरा थाना क्षेत्र के मुन्नीचक सरसौना गांव में उत्तराखंड के रहने वाले दो इंजीनियर अपनी टीम के साथ रेलवे लाइन बिछाने के लिए सर्वेक्षण कार्य मे लगे थे. दोपहर में टीम के अन्य सदस्य खाना खाने चले गए तो दोनों इंजीनियर वहां रखे उपकरणों की सुरक्षा के लिए रुक गए. इसी बीच गांव के कुछ बदमाश टाइप लड़कों ने दोनों को देखा तो गांव वालों के बीच यह अफवाह फैला दी कि बच्चा चोर बैठे हुए हैं, जल्दी पकड़ो.




बिना कोई तहकीकात किए गांव वाले उधर दौड़ पड़े और बिना कुछ पूछे दोनों इंजीनियर की जमकर धुनाई कर दी. बाद में उन्हें पुलिस के हवाले कर दिया. बिना वजह के मार खाते हुए भी दोनों इंजीनियरों ने लोगों को काफी समझाने की कोशिश भी की लेकिन किसी ने भी उनकी बातों पर ध्यान नहीं दिया.

जब पुलिस ने उनसे जानकारी ली तो उन्होंने बताया कि वे इंजीनियर हैं और रेलवे लाइन बिछाने के लिए सर्वे करने आए हैं. पुलिस ने उनके पहचान पत्र देखे. रेलवे अधिकारियों से छानबीन की गई तो बात सही निकली.




बंगरा थानाध्यक्ष अनिल कुमार ने बताया कि दोनों इंजीनियर हैं. रेलवे लाइन बिछाने के लिए सर्वे कराया जा रहा है. अफवाह उड़ाकर दोनों के साथ धक्का-मुक्की की गई और उनका मोबाइल भी छीन लिया गया था. दोनों इंजीनियरों द्वारा लिखित आवेदन दिया जा रहा है.आवेदन मिलते ही घटना की प्राथमिकी दर्ज कर अफवाह फैलाने वालों पर कार्रवाई की जाएगी.

 

Category: News

About the Author ()

Comments are closed.