केंद्रीय बजट में केंद्रीय कर्मचारियों की रिटायरमेंट आयु बढ़ाने की सिफारिश

| July 5, 2019

वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने गुरुवार को संसद में आर्थिक सर्वेक्षण पेश किया। मुख्य आर्थिक सलाहकार कृष्णमूर्ति सुब्रह्मण्यन और उनकी टीम ने इस रिपोर्ट में सरकारी कर्मचारियों की सेवानिवृत्ति की उम्र मौजूदा 60 साल से बढ़ाने की सिफारिश की है। उन्होंने तर्क दिया है कि लोगों की औसत आयु बढ़ती जा रही है जिससे भविष्य में कामकाजी लोगों की कमी हो सकती है।.








बूढ़े लोगों की तादात बढ़ेगी:रिपोर्ट में कहा गया है कि अगले दो दशकों में भारत में जनसंख्या वृद्धि में तेज गिरावट देखने को मिलेगी और कुछ राज्यों में 2030 तक उम्रदराज लोगों की तादाद बढ़ने लगेगी। दक्षिण भारत के राज्यों, हिमाचल प्रदेश, पंजाब, पश्चिम बंगाल और महाराष्ट्र में जन्म दर इतनी कम हो गई है कि देश में जनसंख्या का अनुपात घटने लगा है। ऐसा माना जा रहा है कि कामकाजी आबादी 2021-31 के दौरान 97 लाख सालाना की दर से ही बढ़ेगी। वहीं, 2031-41 के बीच ये आंकड़ा 41 लाख के करीब रह जाएगा। इसीलिए अभी से तैयारी की जरूरत है।.




विदेश का हवाला: रिपोर्ट में कहा गया है कि कई देश बूढ़ों की बढ़ती आबादी और पेंशन पर खर्च के कारण सेवानिवृत्ति की उम्र बढ़ा रहे हैं। जर्मनी में सेवानिवृत्ति उम्र 2023 तक 66 साल और 2029 तक 67 साल हो जाएगी। अमेरिका में पेंशन लेने की उम्र सीमा बढ़ाकर 67 साल की जा रही है। ब्रिटेन में 2020 तक 66 साल और 2026 तक 67 वर्ष करने का प्रस्ताव है। चीन सरकार 2045 तक सेवानिवृत्ति उम्र 65 साल करना चाहती है। सबसे आगे जापान है। वहां ये उम्र 70 साल रखने पर काम चल रहा है। भारत में कुछ सेवाओं को छोड़कर रिटायरमेंट की उम्र सीमा 60 साल है। .




मुख्य आर्थिक सलाहकार ने बताया है कि यहां भी सेवानिवृत्ति आयु सीमा बढ़ाने की जरूरत है। दक्षिण के राज्यों से इसे जल्दी शुरू करना होगा हालांकि उत्तरी राज्यों में शुरू होने में समय लगेगा।.

Category: News

About the Author ()

Comments are closed.