सातवाँ वेतन आयोग – केंद्रीय कर्मचारियों के फिटमेंट फैक्टर को 3.68 फीसदी कर सकती है मोदी सरकार

| July 1, 2019

केंद्रीय कर्मचारियों के फिटमेंट फैक्टर को 3.68 फीसदी कर सकती है मोदी सरकार, कर्मचारियों की मांग है कि न्यूनतम वेतन में 8 हजार रुपए जबकि फिटमेंट फैक्टर में 3.68 गुणा की बढ़ोतरी करें।

केंद्र सरकार आगामी बजट में केंद्रीय कर्मचारियों के न्यूनतम वेतन में बढ़ोतरी कर सकती है। अगर ऐसा होता है तो यह नई सरकार द्वारा कर्मचारियों को एक बेहतरीन तोहफा होगा। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक सरकार बजट में सातवें वेतन आयोग से परे केंद्रीय कर्मचारियों के न्यूनतम वेतन के साथ-साथ फिटमेंट फैक्टर में बढ़ोतरी कर सकती है। केंद्र का बजट 5 जुलाई को पेश किया जाएगा। लिहाजा बजट पर केंद्र सरकार के कर्मी नजर जमाए बैठे हैं।








मालूम हो कि केंद्र सरकार के 50 लाख कर्मचारी सातवें वेतन आयोगी की सिफारिशों पर लंबे समय से सुधार की मांग कर रहे हैं। इन मांगों में न्यूनतम वेतन के साथ-साथ फिटमेंट फैक्टर सबसे अहम है। इससे पहले सरकार कई बार इन मांगों को टाल चुकी है। कर्मचारियों की मांग है कि न्यूनतम वेतन में 8 हजार रुपए जबकि फिटमेंट फैक्टर में 3.68 गुना की बढ़ोतरी करें। मालूम हो कि 7वें वेतन आयोग की सिफारिशों के बाद सरकारी कर्मचारियों के वेतन में वृद्धि से मांग में वृद्धि हुई जिसने आर्थिक विकास को सीधे प्रभावित किया है।




गौरतलब है कि कैबिनेट ने सातवें वेतन आयोग की सिफारिशों के मुताबिक न्यूनतम वेतन को 7,000 रुपए से बढ़ाकर 18,000 रुपए महीने कर दिया था। जबकि फिटमेंट फैक्टर को भी 2.57 गुना बढ़ा दिया गया था।




मालूम हो कि कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में बताया गया कि मोदी सरकार, केंद्रीय कर्मचारियों के न्यूतन वेतन बढ़ाना तो चाहती है, मगर उससे सरकारी खजाने पर खासा बोझ बढ़ जाएगा। हालांकि अब उम्मीद जताई जा रही है कि बीजेपी के सत्ता में वापस आने के बाद सरकार बड़ा फैसला ले सकती है। यह उम्मीद इसलिए भी बढ़ जाती है क्योंकि बजट से पहले वित्त मंत्री ने अर्थशास्त्रियों, बैंक प्रमुखों और वित्तीय संस्थाओं और उद्योग मंडलों के प्रमुखों संग एक अहम बैठक की है।

Source:- Jansatta

Category: News, Seventh Pay Commission

About the Author ()

Comments are closed.