TTEs to have hand held machine in place of reservation chart

| June 27, 2019

पहली जुलाई से राजधानी व शताब्दी एक्सप्रेस के साथ ही प्रमुख ट्रेनों के टीटीई के पास आरक्षण चार्ट नहीं हैंडहेल्ड मशीन होगी। इससे वेटिंग वाले यात्रियों को सफर में ही बर्थ कंफर्म होने की जानकारी मिल सकेगी।








डिजिटल इंडिया के तहत रेलवे दिन ब दिन सुधार कर रहा है, ताकि यात्रियों को सीधा लाभ मिल सके। रेलवे मुख्यालय ने मुरादाबाद मंडल से होकर गुजरने वाली राजधानी, शताब्दी और लखनऊ मेल जैसी प्रमुख ट्रेनों में पहली जुलाई से कागज वाला आरक्षण चार्ट बंद करने का आदेश दिया है। टीटीई को आरक्षण चार्ट के स्थान पर हैंडहेल्ड मशीन देने का आदेश दिया गया है। हैंडहेल्ड मशीन मोबाइल नेटवर्क के द्वारा रेलवे के मुख्य आरक्षण केंद्र से जुड़ी होगी। टीटीई हैंडहेल्ड मशीन से आरक्षण कराने वाले यात्री की जानकारी प्राप्त कर सकता है।




यात्रियों को ट्रेन से संबंधित जानकारी भी उपलब्ध कराएगा। टिकट बनाने के साथ जुर्माना वसूली भी इस मशीन से हो सकेगा। कंफर्म बर्थ वाले यात्री के ट्रेन में सवार नहीं होने पर खाली बर्थ आरएसी वाले को सीधे देने के बजाय टीटीई हैंडहेल्ड मशीन में फीड करेगा। इसके बाद आरएसी वाले यात्री को एसएमएस से बर्थ आवंटन की सूचना मिल जाएगी।




आरएसी टिकट धारक के न मिलने पर वेटिंग वाले यात्री को बर्थ आवंटन का एसएमएस आ जाएगा। प्रवर मंडल वाणिज्य प्रबंधक रेखा ने बताया कि राजधानी, शताब्दी व प्रमुख मेल एक्सप्रेस ट्रेनों में ड्यूटी करने वाले टीटीई को हैंडहेल्ड मशीन उपलब्ध कराया जाना है। प्रथम चरण में मुख्यालय से 419 हैंडहेल्ड मशीन की मांग की गई है।

Category: News

About the Author ()

Comments are closed.