आधुनिक ट्रेन नियंतण्रपण्राली परियोजना के लिए करार

| June 18, 2019

आधुनिक ट्रेन नियंतण्रपण्राली परियोजना के लिए करार

ट्रेन के सुरक्षित परिचालन एवं लाइन क्षमता बढ़ाने के लिए अत्याधुनिक ट्रेन नियंतण्रपण्राली परियोजना की शुरुआत हो गई है। इसके लिए रेलवे बोर्ड और रेलटेल के बीच करार किया गया है। इस करार के तहत आधुनिक ट्रेन नियंतण्रपण्राली परियोजना को लागू किया जाएगा। 1609 करोड़ रपए की यह परियोजना 24 महीने में पूरी हो गई। परियोजना के तहत आधुनिक ट्रेन प्रोटेक्शन सिस्टम के साथ मोबाइल ट्रेन रेडियो कम्युनिकेशन पण्राली और इलेक्ट्रॉनिक इंटरलॉकिंग का कार्य भी किया जाएगा।








इस आशय के करार पर सोमवार को रेलवे बोर्ड के सदस्य (एसएंडटी) एन. काशीनाथ और रेलटेल के सीएमडी पुनीत चावला की उपस्थिति में रेलवे बोर्ड के कार्यकारी निदेशक प्रदीप पी. सिकदर और रेलटेल के निदेशक एके सबलेनिया ने हस्ताक्षर किए। यह परियोजना 165 किलोमीटर रेनुगुंटा-येरागुंटा रेलखंड दक्षिण मध्य रेलवे, 145 विजिएनागरम-पलासा रेलखंड पूर्व तटीय रेलवे, 155 किलोमीटर झांसी-बीना रेलखंड उत्तर मध्य रेलवे और 175 किलोमीटर नागपुर-बदनेरा रेलखंड मध्य रेलवे की है। भारतीय रेलवे का यह रेलखंड अति व्यस्तम है। इस पर ट्रेनों के आवागमन का बहुत अधिक दबाव है। यह परियोजना होने के बाद यहां रेल लाइनों की क्षमता बढ़ेगी और ज्यादा ट्रेनें चलायी जा सकेंगी।




घर बैठे बुक करें ट्रेन का जनरल टिकट, मोबाइल ऐप के जरिए मिलेगी सुविधा

अब आप न केवल स्लीपर या एसी बल्कि जनरल टिकट भी घर बैठे ही बुक कर सकते हैं। इस सुविधा को लेकर रेलवे ने पिछले साल UTS ऐप की शुरुआत की है। इस ऐप के जरिए यात्री उपनगरीय और गैर उपनगरीय स्टेशनों के लिए अनारक्षित टिकट और प्लेटफॉर्म टिकट आसानी से बुक कर सकते हैं। अब यात्रियों को इसके लिए लाइन में नहीं लगना पड़ेगा।

समय की होगी बचत

  1. कैसे करें टिकिट बुक?

    इसके लिए सबसे पहले आपको मोबाइल में UTS ऐप डाउनलोड करना होगा। इसके बाद अपना नाम, मोबाइल नंबर, आई-डी कार्ड नंबर की जानकारी भरें और रजिस्टर करें। रजिस्टर करने पर एक ओटीपी आपके मोबाइल नंबर में आएगा।

    – अब आपका साइन अप हो सकेगा। इसके बाद आईडी और पासवर्ड आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर आएगा। जिसके जरिए UTS लॉग इन होगा। पैमेंट करने के लिए आपको R-Wallet का उपयोग करना होगा।




    – R-Wallet को आप पेटीएम, ऑनलाइन बैंकिंग या क्रेडिट/डेबिट कार्ड के जरिए रीचार्ज कर सकते हैं। इसे आप न्यूनतम 100 रुपये से रिचार्ज कर सकते हैं। रिचार्ज की अधिकतम राशि 10,000 रुपये है।

  2. रखें इन बातों का ख्याल

    अनारक्षित टिकट, सीजन टिकट, प्लेटफार्म टिकट भी बुक कर सकते हैं।

    – यात्रा टिकट स्टेशन के पांच किमी की परिधि और प्लेटफार्म टिकट दो किमी की दूरी पर बन सकेंगे।

    – स्टेशन परिसर में घुसने के बाद टिकट बुक नहीं हो सकेंगे।

    – अग्रिम टिकट और रियायती टिकट बुक नहीं होंगे, यात्रा वाले दिन ही टिकट बुक होंगे।

    – बुक हो चुके पेपरलेस टिकट को शो टिकट में क्लिक कर देखा जा सकता है। आपको बता दें कि से टिकिट बुक होने के बाद कैंसिल नहीं होगा।

Category: Indian Railways, News

About the Author ()

Comments are closed.