सातवाँ वेतन आयोग – इन कर्मचारियों को नरेंद्र मोदी सरकार से मिलेगा इन्सेंटिव, जानें क्यों और कैसे

| May 30, 2019

7th Pay Commission-इन कर्मचारियों को नरेंद्र मोदी सरकार से मिलेगा इन्सेंटिव, जानें क्यों और कैसे

7th Pay Commission, 7th CPC Latest News Today 2019: जारी की गई सरकारी अधिसूचना में यह भी बताया गया कि केंद्रीय कर्मचारियों ने तय किए फॉर्मेट के आधार पर अगर सेवा में रहते हुए कोई उच्च शैक्षणिक डिग्री हासिल की है, तब वह अपने इन्सेंटिव के लिए क्लेम कर सकते हैं।








केंद्रीय कर्मचारियों को नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली नई सरकार से आगामी दिनों में राहत मिलने की संभावना है। इसी बीच, सरकार ने अपने ऐसे कर्मचारियों के लिए इन्सेंटिव की घोषणा की, जो भारत सरकार के किसी भी विभाग में सेवा में रहते हुए उच्च शैक्षणिक डिग्री हासिल करेंगे। सरकार की अधिसूचना के मुताबिक, यह एक बाद दिया जाने वाला इन्सेंटिव होगा, जो सातवें वेतन आयोग की सिफारिशों के तहत दिया जाएगा। जो भी कर्मचारी इसके पैमाने पर खरे उतरेंगे, उन्हें 30 हजार रुपए तक का एकमुश्त इन्सेंटिव मिलेगा।




जारी की गई सरकारी अधिसूचना में यह भी बताया गया कि केंद्रीय कर्मचारियों ने तय किए फॉर्मेट के आधार पर अगर सेवा में रहते हुए कोई उच्च शैक्षणिक डिग्री हासिल की है, तब वह अपने इन्सेंटिव के लिए क्लेम कर सकते हैं।

कैसे और किसे मिलेगा क्लेम?:

– जिन केंद्रीय कर्मचारियों ने पीएचडी या फिर उसके बराबर की डिग्री का सर्टिफिकेट हासिल किया होगा, उन्हें सरकार द्वारा की गई सातवें वेतन आयोग की ताजा सिफारिशों के तहत 30 हजार रुपए इन्सेंटिव मिलेगा।

– पीजी डिग्री या फिर एक साल से अधिक का डिप्लोमा या उसके बराबर की शैक्षणिक योग्यता हासिल करने पर 25 हजार रुपए इन्सेंटिव के तौर पर दिए जाएंगे।




– पीजी डिग्री या फिर एक साल के कम के डिप्लोमा या फिर इसी के बराबर की शैक्षणिक योग्यता हासिल करने वालों के लिए यह रकम 20 हजार रुपए होगी।

– इनके अलावा सेवा में रहते हुए तीन साल से अधिक की डिग्री या फिर डिप्लोमा (किसी भी विषय में) हासिल करने वाले कर्मियों को 15 हजार रुपए दिए जाएंगे।

विधानसभा चुनावों के माहौल के बीच सरकार ने मानी कर्मचारियों की मांग, बढ़ सकती है सैलरी!
विधानसभा चुनावों के माहौल के बीच सरकार ने मानी कर्मचारियों की मांग, बढ़ सकती है सैलरी!

– वहीं, डिग्री या फिर तीन साल या उससे कम की डिग्री या फिर बराबर की शैक्षणिक योग्यता पर इन्सेंटिव की रकम 10 हजार रुपए कर दी जाएगी।

जरूरी बातः दिशानिर्देशों के मुताबिक, कर्मचारियों को सरकार द्वारा दिया जाने वाला यह इन्सेंटिव पाने के लिए अपनी शैक्षणिक योग्यता से जुड़े दस्तावेज संबंधित विभागों में जमा कराने होंगे।

Category: News, Seventh Pay Commission

About the Author ()

Comments are closed.