Passengers misusing the Railway Helpline Facility

| May 6, 2019

‘सर, मेरा एक पैर का जूता ट्रेन में छूट गया है, कृपया खोजवा दें।’ ऐसे कई बेतुके फोन कॉल रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) जवानों को प्रतिदिन रेलवे हेल्पलाइन नंबर पर आते हैं। इन बातों से जवानों को गुस्सा तो आता है लेकिन इसपर नियंत्रण रखते हुए यात्रियों को मदद करने का हमेशा ही प्रयास रहता है। इसी का परिणाम है कि अप्रैल 2019 में रेलवे ने 182 नंबर पर सात मामले दर्ज किए और त्वरित कार्रवाई करते हुए अपराधियों को भी गिरफ्तार करने में सफलता पायी।







भारतीय रेल ने देशभर में यात्रियों को तत्काल मदद पहुंचाने, समस्याओं का समाधान करने के लिए हेल्पलाइन नंबर 182 की शुरुआत की है। कार्यप्रणाली ऐसी है कि ट्रेन जिस क्षेत्र से गुजरती है, वहां कोई यात्री इस नंबर पर कॉल करता है तो वहां के मंडल रेल कार्यालय के आरपीएफ कंट्रोल से संपर्क होता है। यात्री अपनी समस्या बताते हैं। इसके बाद कंट्रोल रूम तत्काल उस रेल रूट के अगले स्टेशन पर आरपीएफ को सतर्क करती है। फिर यात्री को मदद दी जाती है। धनबाद रेल मंडल के सहायक मंडल सुरक्षा आयुक्त बीपी सिंह ने बताया कि कई बार लोग फोन कर यह बताते हैं कि उनके परिजन ट्रेन में यात्र कर रहे हैं लेकिन बात नहीं हो पा रही है। ऐसे में जानकारी लेने के बाद ट्रेन का लोकेशन लेकर उस क्षेत्र के स्टेशन के आरपीएफ से संपर्क कर यात्री की परिजनों से बातचीत करायी जाती है।



अप्रैल 2019 में धनबाद रेल मंडल में दर्ज हुए सात मामले, फर्जी कॉल का नहीं रखा जाता रिकॉर्ड

बहुत आते हैं फर्जी कॉल

कंट्रोल रूम में फर्जी कॉल बहुत आते हैं। कई लोगों के लिए 182 पर फोन करना मजाक होता है जबकि रेल ने यह सुविधा यात्रियों की मदद के लिए दी है। इसेो समझना होगा। उसके बावजूद आरपीएफ मदद के लिए तैयार रहती है।

चोर को पकड़ा

28 अप्रैल को यात्री रवि रंजन अजमेर सियालदह एक्स. से सफर कर रहे थे। उनका एक बैग चोरी हो गया। उन्होंने 182 पर आरपीएफ कंट्रोल, धनबाद को सूचना दी। ट्रेन के धनबाद पहुंचते ही आरपीएफ जवान ने बैग की तलाश शुरू कर दी और चोर को पकड़ लिया।




अप्रैल में 182 के तहत दर्ज मामले

तिथि>>ट्रेन>>यात्री>>मामला>>स्थिति

01 अप्रैल>>18623>>आयुष कुमार>>बैग चोरी>>बरामद

08 अप्रैल>>12801>>अतुल त्रिपाठी >> बैग चोरी >> केस

09 अप्रैल>>12321>>ज्योति कुमारी बैग चोरी>> केस

11 अप्रैल >>2334 >>अजय कुमार >>बैग चोरी>> केस

11 अप्रैल>>12307>>कोमल>>फोन व्चोरी>> केस

11 अप्रैल>>07007>>नवीन पटेल>>बैग चोरी>> केस

28 अप्रैल>>12988>>रवि रंजन>>बैग चोरी>>बरामद

Category: Indian Railways, News, Uncategorized

About the Author ()

Comments are closed.