उच्च शिक्षा लेने वाले रेलवे सहित केंद्रीय कर्मियों को मिलेगा यह भत्ता

| May 5, 2019

उच्च शिक्षा लेने वाले रेलवे सहित केंद्रीय कर्मियों को मिलेगा यह भत्ता, रेलवे सहित केंद्र सरकार के कर्मचारियों के लिए अच्छी खबर है। नौकरी के दौरान जो कर्मचारी उच्च शिक्षा के तहत किसी तरह…

रेलवे सहित केंद्र सरकार के कर्मचारियों के लिए अच्छी खबर है। नौकरी के दौरान जो कर्मचारी उच्च शिक्षा के तहत किसी तरह की डिग्री हासिल करेंगे, उन्हें सरकार इंसेंटिव देगी। वह भी 10 से 30 हजार तक। कार्मिक, लोक शिकायत और पेंशन मंत्रालय के तहत कार्यरत कार्मिक एवं प्रशिक्षण विभाग ने इस बारे में घोषणा की थी। यह फायदा सातवें वेतन आयोग की ओर से की गई अनुशंसाओं में से एक में शामिल था। रेलवे कर्मचारी संगठन के नेताओं का कहना है कि लोकसभा चुनाव के परिणाम आने से पहले इसे लागू कर दिया जाएगा।








दरअसल, सातवें वेतन आयोग की कई सिफारिशें अभी भी पूरी तरह से लागू नहीं हो सकी हैं। केंद्र सरकार कर्मचारी संगठनों के मांग करने पर उनका अध्ययन करवाता है और दबाव बनने पर लागू कर देता है। ऐसी ही यह सिफारिश थी जिसमें इंसेंटिव का प्रावधान किया गया था। रेलवे कर्मचारियों के फेडरेशन के महासचिव शिवगोपाल मिश्रा के मुताबिक वित्त सचिव के नेतृत्व वाली सातवें वेतन आयोग से जुड़ी एक समिति ने इस सिफारिश को आगे बढ़ाया था।




इसके बाद मंत्राालय द्वारा जारी अधिसूचना में कहा गया है कि केंद्र सरकार के कर्मचारी, जो सेवा में आने के बाद नई शैक्षणिक योग्यता हासिल करेंगे, उन्हें इंसेंटिव मुहैया कराया जाएगा। यह रकम एक बार में दी जाएगी, जो 10 हजार से 30 हजार रुपए के बीच होगी। नॉर्थ वेस्टर्न रेलवे एंप्लॉइज यूनियन के मंडल सचिव मनोज कुमार परिहार ने बताया कि उन्हें जो जानकारी मिली है, उसके मुताबिक विभाग में कार्यरत कर्मचारियों के काम से जुड़े या उससे मिलते-जुलते प्रोफेशनल कोर्स करने वालों को सीधे तौर पर इससे फायदा मिलेगा। कोर्स की डिग्री या फिर डिप्लोमा हासिल करने के बाद उन कर्मचारियों को इंसेंटिव दिया जाएगा।




पीएचडी पर 30 हजार, डिप्लोमा पर 10 हजार

पीएचडी करने वालों को 30 हजार रुपए मिलेंगे। पीजी डिग्री या फिर एक साल या फिर उससे अधिक का डिप्लोमा हासिल करने वाले को 25 हजार रुपए दिए जाएंगे। पीजी डिग्री या फिर एक साल से कम के डिप्लोमा वालों के लिए यह रकम 20 हजार रुपए होगी। वहीं, तीन साल या उसके बराबर वाली डिग्री/डिप्लोमा वाले को 15 हजार रुपए दिए जाएंगे, जबकि तीन साल या उससे कम की डिग्री या डिप्लोमा वालों को 10 हजार रुपए का इंसेंटिव मिलेगा।

Category: Indian Railways, News

About the Author ()

Comments are closed.