उधार में भी बुक होगा रेलवे का आरक्षित टिकट

| April 21, 2019

रेलवे अब उधार में भी टिकट उपलब्ध कराएगा। इसके लिए ‘ई-पेपर लेटर’ सेवा शुरू की गई है। 14 दिन के अंदर भुगतान करने पर ब्याज नहीं देना पड़ेगा। नई सेवा शुरू करने के लिए इंडियन रेलवे केटरिंग एंड टूरिज्म कारपोरेशन(आइआरसीटीसी) ने एक प्राइवेट कंपनी के साथ करार किया है। इसमें कोई भी यात्री उधार में आरक्षण टिकट बनवा सकता है। समय से भुगतान करने वालों की क्रेडिट लिमिट बढ़ती जाएगी।








उधार आरक्षण टिकट बनाने वाले यात्रियों को आइआरसीटीसी की वेबसाइड पर जाकर लॉगिन करना होगा। पहले अकाउंट बनाना होगा। टिकट बुक कराने के लिए विस्तृत जानकारी भर दें। बुक नाउ ऑप्शन को क्लिक कर दें, नया पेज खुल जाएगा। इसमें यात्रियों की विस्तृत जानकारी और डाटा कोड भरना पड़ेगा। उसके बाद नेक्स्ट बटन को क्लिक कर दें। फिर नया पेज खुल जाएगा। इसमें पेमेंट की डिटेल भरनी पड़ेगी। क्रेडिट, डेबिट, नेट बैकिंग से भुगतान करना पड़ेगा। इसी के साथ ‘ई-पेपर लेटर’ का भी ऑप्शन मिलेगा। उधार के लिए इस पर क्लिक करना पड़ेगा।




पहली बार उधार ली गई टिकट का अगर आपने 14 दिन के अंदर भुगतान नहीं किया तो आपको काली सूची में डाल दिया जाएगा।

‘ई-पेपर लेटर’ के लिए करना पड़ेगा पंजीयन :अगर आप पहली बार ‘ई- पेपर लेटर’ का लाभ उठाने जा रहे हैं तो पंजीयन करना पड़ेगा। इसके लिए डब्ल्यूडब्ल्यूडब्ल्यू डाट ई-पेपर लेटर डाट को लॉगिंन करना पड़ेगा। मांगी जाने वाली सूचना भरने के बाद किराया भुगतान का ऑप्शन आएगा। इसे क्लिक करते ही आरक्षण टिकट बन जाएगा।




टेन चलने से 12 घंटे पहले तक भुगतान नहीं हुआ तो टिकट रद

‘ई-पेपर लेटर’ के तहत उधार के टिकट पर ट्रेन चलने से 12 घंटे पहले तक भुगतान नहीं करने पर टिकट निरस्त हो जाएगा और ऐसे यात्रियों को काली सूची में डाल दिया जाएगा। समय से किराये का भुगतान करने पर कंपनी टिकट बुक कराने की लिमिट बढ़ाती चली जाएगी।

रेलवे यात्री सुविधा को बेहतर बनाने का प्रयास कर रहा है। इसी के तहत ‘ई-पेपर लेटर’ सेवा शुरू की गई है।

-अजय कुमार सिंघल, मंडल रेल प्रबंधक

Category: Indian Railways, News

About the Author ()

Comments are closed.