रेलवे की कंपनियों में निवेश करने का मौका

| April 19, 2019

सरकार रेलवे की दो कंपनियों भारतीय रेल खानपान एवं पर्यटन निगम (आईआरसीटीसी) और भारतीय रेल वित्त निगम (आईआरएफसी) में प्रारंभिक सार्वजनिक निर्गम (आईपीओ) लाने जा रही है। ऐसे में आपके पास इन कंपनियों के आईपीओ में निवेश कर अच्छा रिटर्न पाने का मौका है। सरकार के एक शीर्ष अधिकारी ने बुधवार को यह जानकारी दी। .








अधिकारी ने कहा कि सरकार का इनके आईपीओ से 1,500 करोड़ रुपये जुटाने का इरादा है। उन्होंने कहा , हम सितंबर तक दोनों कंपनियों के आईपीओ लाने के लिए काम कर रहे हैं। लोकसभा चुनावों के बाद आईआरएफसी को फिर से मंत्रिमंडल के पास जाना पड़ सकता है। वित्त मंत्रालय ने इस साल की शुरुआत में आईआरएफसी का आईपीओ पेश करने की प्रक्रिया शुरू की थी। हालांकि, कंपनी ने रेल मंत्रालय को बताया था कि सूचीबद्ध होने पर उसकी उधारी लागत बढ़ जाएगी। इस संबंध में अंतिम फैसला केंद्रीय मंत्रिमंडल लेगा। आईआरएफसी भारतीय रेल के विस्तार योजनाओं के वित्तपोषण के लिए पूंजी बाजार और उधारी के माध्यम से पूंजी जुटाती है। वहीं, आईआरसीटीसी रेलवे का खानपान और पर्यटन से जुड़ी गतिविधियों की जिम्मेदारी संभालती है।.




इस महीने की शुरुआत में सरकार ने रेल विकास निगम लिमिटेड (आरवीएनएल) में 12.12 प्रतिशत हिस्सेदारी की बिक्री करके करीब 480 करोड़ रुपये जुटाए हैं। गौरतलब है कि मंत्रिमंडल की आर्थिक मामलों की समिति ने अप्रैल 2017 में रेलवे की पांच कंपनियों को सूचीबद्ध कराने को मंजूरी दी थी। इनमें इरकॉन इंटरनेशनल, राइट्स, आरवीएनएल, आईआरएफसी और आईआरसीटीसी शामिल हैं। इनमें से इरकॉन इंटरनेशनल और राइट्स को 2018- 19 में सूचीबद्ध कर लिया गया है।.

सरकार की आईआरसीटीसी के आईपीओ के जरिये करीब 500 करोड़ रुपये जबकि आईआरसीटीसी की पेशकश के जरिये करीब 1,000 करोड़ रुपये जुटाये जाने की उम्मीद है। अधिकारी ने कहा, आईआरसीटीसी और आईआरएफसी आईपीओ के लिए बाजार नियामक सेबी के पास जल्द मसौदा दस्तावेज जमा करेंगे।.




हजार करोड़ जुटाने का लक्ष्य है विनिवेश से चालू वित्त वर्ष के दौरान सरकार का.

सौ करोड़ रुपये जुटाने की योजना आईआरसीटीसी आईआरएफसी के आईपीओ से .

Category: Indian Railways, News

About the Author ()

Comments are closed.