अच्छी खबर – रेलवे बोर्ड ने रेलवे कर्मचारियों और उनके परिजनों के लिए शुरू की यह सुविधा

| April 12, 2019

रेलवे बोर्ड ने रेलवे कर्मचारियों उनके परिजनों एवं सेवानिवृत्त कर्मचारियों के स्वास्थ्य सुविधा के लिए वेब एवं मोबाइल डाटाबेस आधारित “यूनिक मेडिकल आईडेंटिफिकेशन स्मार्ट कार्ड” सुविधा की शुरुआत की है। इस कार्ड के जरिए रेलवे कर्मचारी व उनके परिजन देशभर में रेलवे के चयनित अस्पतालों में अपना इलाज करा सकेंगे। “यूनिक मेडिकल आईडेंटिफिकेशन स्मार्ट कार्ड” रेलवे में कार्यरत कर्मचारियों उनके परिजनों एवं सेवानिवृत्त रेल कर्मियों के स्वास्थ्य सेवाओं एवं उपचार सुविधा योजना की शुरूआत रेलवे बोर्ड चेयरमैन विनोद कुमार यादव ने दक्षिण मध्य रेलवे के सिकंदराबाद में रेलवे के कई डिजिटल सेवाओं की शुरुआत की।








इसी के तहत यह योजना भी शामिल है। यूनिक मेडिकल आईडेंटिफिकेशन कार्ड एक क्यू आर कोड डाटा बेस आधारित स्मार्ट कार्ड है, जिसमें संबंधित कर्मचारी से जुड़ी हर जानकारी फीड रहेगी। इसकी सहायता से रेलकर्मी एवं उनके परिजन तथा सेवानिवृत्त कर्मी किसी भी रेलवे अस्पताल के साथ ही साथ रेलवे द्वारा नामित प्राइवेट अस्पतालों में भी अपना इलाज करा सकेंगे। इस सुविधा के शुरू होने से रेल कर्मियों को मुख्य रूप से तीन लाभ मिलेंगे।








सुविधाएं इस तरह भी: इसमें किसी भी प्रकार के मेडिकल कार्ड के बगैर भी कर्मचारी रेलवे के द्वारा मान्य किए गए 6 प्रकार के आईडेंटिटी जैसे ड्राइविंग लाइसेंस, पैन कार्ड, आधार कार्ड आदि को दिखा कर भी इस सुविधा का लाभ ले सकते हैं । 0 स्थानांतरण आदि के समय भी इस कार्ड की सहायता से संबंधित रेल कर्मचारी कहीं भी अपना इलाज करा सकते हैं । 0 स्वयं रेलकर्मी एवं उनके परिजन भी किसी अन्य जगहों पर इस कार्ड की सहायता से अपना इलाज रेलवे के अस्पतालों में करा सकते हैं।

Category: Indian Railways, News

About the Author ()

Comments are closed.