नए साल में रेलवे अस्पताल में शुरू होगी रोबोटिक सर्जरी

| December 31, 2018

कनॉट प्लेस के समीप स्थित नॉर्दर्न रेलवे के अस्पताल में नए साल में न सिर्फ रोबोटिक सर्जरी शुरू हो जाएगी, बल्कि रेलकर्मियों के लिए आईवीएफ की सुविधा भी मिलने लगेगी। इसके अलावा 2020 में इसी अस्पताल परिसर में पोस्ट ग्रैजुएट मेडिकल इंस्टीट्यूट का पहला बैच भी शुरू कर दिया जाएगा। रेलवे बोर्ड के चेयरमैन अश्विनी लोहानी ने संडे को इस अस्पताल का दौरा किया और वहां चल रहे कामकाज की भी समीक्षा की। उन्होंने रेलवे अधिकारियों से चल रहे कार्योां को फरवरी तक पूरा करने के निर्देश दिए, ताकि रेलवे कर्मचारियों को अतिरिक्त आधुनिक सुविधाएं जल्द मिलनी शुरू हो सकें।







रेलवे अधिकारियों के मुताबिक रेलवे बोर्ड के चेयरमैन को जानकारी दी गई कि अस्पताल में कुल 25 करोड़ रुपये के प्रोजेक्ट चल रहे हैं। इनमें से 15 करोड़ रुपये की लागत से सिविल कार्य हो रहे हैं, जबकि 10 करोड़ रुपये की लागत से मेडिकल उपकरण खरीदे गए हैं। इनमें साढ़े तीन करोड़ रुपये की लागत से वे उपकरण हैं, जिनका उपयोग रोबोटिक सर्जरी के लिए किया जाएगा। उम्मीद की जा रही है कि फरवरी में ही यह सुविधा शुरू हो जाएगी। इसी तरह से आईवीएफ तकनीक के लिए भी दो करोड़ रुपये की लागत वाला उपकरण खरीदने के ऑर्डर हो चुके हैं।




इस अस्पताल में डेवलप करने के लिए चल रही परियोजनाओं के तहत सीनियर रेजिडेंट डॉक्टरों की संख्या 20 से बढ़ाकर 50, जूनियर रेजिडेंट डाक्टरों की संख्या 12 से बढ़ाकर 50 की गई है। एमरजेंसी के लिए अलग से पूरा वॉर्ड बनाया गया है।, जिसमें एक्सरे से लेकर हर तरह की जांच की सुविधा दी गई है।




शिशुओं के लिए भी वॉर्ड को नए सिरे से तैयार किया गया है। इस वॉर्ड में बच्चों के लिए न सिर्फ पेंटिंग लगाई गई हैं, बल्कि ऐसी लाइटिंग भी लगाई गई है कि उससे रात के वक्त वॉर्ड में ही शिशु रोगियों का मनोरंजन भी हो। इसी अस्पताल परिसर में ही पोस्ट ग्रैजुएट मेडिकल इंस्टीट्यूट भी शुरू किया जा रहा है।
अस्पताल में चल रहे हैं कुल 25 करोड़ रुपये के प्रोजेक्ट

Category: Indian Railways, News

About the Author ()

Comments are closed.