रेलवे के नियम वर्क टू रूल के तहत होगी यात्रियों को असुविधा

| December 2, 2018

रेलवे कर्मचारियों द्वारा आगामी 11 दिसंबर से वर्क टू रूल के अनुसार काम करने का आह्वान पटौदी रोड रेलवे स्टेशन पर शनिवार को नारेबाजी किया गया। इस अवसर पर रेलवे यूनियन शाखा मंत्री राजकुमार व कामरेड अनूप शर्मा मंडल मंत्री एनआरएमयू दिल्ली मंडल विशेष रूप से मौजूद रहे।








कर्मचारी नेताओं ने कहा कि अब रेलवे कर्मचारी अपनी मर्जी और यात्रियों की सुविधा के अनुसार काम नहीं करेंगे। रेलवे द्वारा बनाए गए रूल के अनुसार ही अब काम किया जाएगा। इस अवसर पर पटौदी रोड रेलवे स्टेशन के अलावा दिल्ली रेवाड़ी रूट के विभिन्न रेलवे स्टेशनों के कर्मचारी मौजूद थे। इस अवसर पर कर्मचारियों ने नारेबाजी भी की। दिल्ली सराय रोहिल्ला बुकिंग सुपरवाइजर रतनलाल के अनुसार रेलवे कर्मचारी यूनियनों की शाखाओं एआईआरएफ तथा एनआरयूएम आगामी 11 दिसंबर को वर्क टू रूल के अनुसार काम करने का निर्णय मजबूरी में लेना पड़ा।




क्योंकि रेलवे विभाग और मंत्रालय द्वारा कर्मचारियों के हितों का ध्यान नहीं रखा जा रहा हैं। पटौदी रोड रेलवे स्टेशन के अधीक्षक मोहम्मद युनूस के अनुसार कर्मचारियों द्वारा अपनी मांगों को लेकर कई बार अपनी आवाज उठा चुके हैं। नॉन पेंशन स्कीम, वर्क लोड ज्यादा हैं, कर्मचारियों की संख्या कम हैं। उनके अनुसार वर्क टू रूल में यात्रियों को असुविधा होना तय है।




कर्मचारियों ने कहा कि सरकार को पुरानी पेंशन योजना दोबारा चालू करनी चाहिए। क्योंकि सांसद और विधायकों को एक दिन के बाद भी पेंशन मिलती हैं और सरकारी कर्मचारी 40 साल सरकारी सेवा करने के बाद पेंशन का हकदार क्यों नहीं हैं। इस अवसर गुड़गांव रेलवे स्टेशन अधीक्षक, संतलाल मीणा, विमल कुमार वधवा, जोवद अख्तर, राकेश कुमार बुकिंग क्लर्क पटौदी रोड सहित भारी संख्या में रेलवे के कर्मचारी मौजूद थे।

Category: Indian Railways, News

About the Author ()

Comments are closed.