पुरानी पेंशन के लिए महारैली कल, लोकसभा चुनाव से पहले नयी पेंशन के खिलाफ महौल

| October 7, 2018

एक बार फिर से राजधानी में कर्मचारियों का एक बड़ा जन सैलाब उमड़ने वाला है। दावा किया जा रहा है कि एक लाख से अधिक केन्द्र व राज्य कर्मी पुरानी पेंशन की बहाली की मांग यहां पहुंचकर करेंगे। यह आंदोलन ईको गार्डेन में होगा। इस महारैली का आवाहन कर्मचारी, शिक्षक, अधिकारी-पुरानी पेंशन बहाली मंच की ओर से किया गया है। .








इको गार्डन में पुरानी पेंशन बहाली के लिए जुटेंगे एक लाख से अधिक कर्मी

रणनीति के तहत राजधानी के कई बड़े विभाग जिसमें सिंचाई, लोक निर्माण विभाग, उद्यान, इनकम टैक्स, सचिवालय सहित कई निगमों के कर्मचारी अपने मुख्यालय से शान्ति पूर्ण रैली निकालते हुए इको गार्डन पहुंचेंगे। महारैली के एक दिन पहले शनिवार को पत्रकारों से मंच के संयोजक हरिकिशोर तिवारी, अध्यक्ष डॉ. दिनेश चन्द शर्मा, केन्द्रीय कर्मचारी संगठन रेलवे से कामरेड आरके पाण्डेय, पोस्टल के वीरेन्द्र तिवारी, आयकर के जेपी सिंह ने संयुक्त रूप से बातचीत की। कर्मचारी नेताओं ने बताया कि महारैली में नई पेंशन स्कीम के तहत हुए 57 सौ करोड़ के घोटालें का खुलासा किया जायेगा। कर्मचारी नेताओं ने कहा कि यह महारैली पुरानी पेंशन बचाओं आन्दोलन का शंखनाद साबित होगी। ईको गार्डन में होने वाली रैली की व्यवस्था के लिए 10 विशेष टीम गठित की गई है। 2 लाख वर्ग फीट का पण्डाल बनाया गया है। इस महारैली में आगे की रणनीति बनाई जाएगी। पेंशन अधिकारियों कर्मचारियों का हक है उसे हम लेकर रहेंगे। .




‘ कर्मचारी, शिक्षक, अधिकारी, पुरानी पेंशन बहाली मंच का आवाहन.

‘ नई पेंशन में 57 सौ करोड़ के घोटाले का किया जायेगा यहां खुलासा.

लखनऊ। बीस सितम्बर से चल रहे राजकीय वाहन चालक महासंघ का आन्दोलन अब वर्क टू रूल बदल चुका है। ‘ वर्क टू रूल’ आन्दोलन से वाणिज्यकर विभाग के सचल दस्ते न चलने से लगभग 600 करोड़ की राजस्व वसूली प्रभावित हुई है। ऐसा दावा वाणिज्य कर विभाग के महामंत्री प्रेम प्रकाश ने की है।




महासंघ के सलाहकार त्रिलोक सिंह ने शनिवार को कहा कि वर्क टू रूल का अनुपाल न करने वाले सदस्यों पर कार्रवाई होगी। उन्होंने बताया कि यह आन्दोलन लोक निर्माण विभाग के प्लांटों एवं प्रवर्तन दलों पर भी लागू रहेगा। पुरानी पेंशन बहाली महारैली में चालक महासंघ भी शामिल होगा।

Category: News, NPS, Pensioners

About the Author ()

Comments are closed.