लेट होते ही चालक बढ़ा देगा ट्रेन की स्पीड

| September 12, 2018

लेट होते ही चालक ट्रेन की गति बढ़ा देगा। जैसे ही ट्रेन निर्धारित समय से चलने लगेगी, गति फिर से कम कर दी जाएगी। इसके लिए रेल लाइन पर आने वाली बाधाओं को खत्म किया जा रहा है। 1 रेल प्रबंधन ने ट्रेनों को निर्धारित समय से चलाने के लिए मानव रहित फाटक पर गेट बनाने, मुरादाबाद रेल मंडल में 230 किलो मीटर रेल लाइन बदलने, 23 कमजोर पुल के स्थान पर नये पुल बनाने का काम शुरू कर दिया है। 1अभी भी नहीं निर्धारित गति से नहीं चलती हैं ट्रेनें : रेलवे ने प्रत्येक रेल मार्ग पर ट्रेनें चलाने की गति निर्धारित कर रखी है, लेकिन उस गति से ट्रेनें नहीं चलती हैं। उदारहण के लिए नई दिल्ली से लखनऊ जाने वाली लखनऊ मेल को 110 किलो मीटर प्रति घंटा की रफ्तार से चलाने अनुमति है, लेकिन लखनऊ मेल औसत 75 किलो मीटर प्रति घंटा की रफ्तार से चलती है।








डर की वजह से चालक अधिक गति से नहीं चलाते हैं ट्रेन : दुर्घटना होने पर इंजन के स्पीडो मीटर की जांच की जाती है, अधिकतम गति से चलने वाली ट्रेन का स्पीडो मीटर 115 किलो मीटर प्रति घंटा की रफ्तार से चलाने की रिपोर्ट देता है। इस रिपोर्ट के आधार रेल प्रशासन चालक की सेवा समाप्त कर देता है। इस लिए चालक ट्रेन को 95 किलो मीटर प्रति घंटा की रफ्तार से चलाता है। रेल लाइन बदले जाने व नये पुल का निर्माण होने के बाद भी गति से प्रतिबंध नहीं हटाया है। इस लिए ट्रेनों की औसत गति 75 किलो मीटर प्रति रह जाती है।




115 किलो मीटर की गति की रिपोर्ट पर नहीं मिलेगा दंड : रेल प्रशासन ने चालकों को अधिकतम गति से ट्रेन चलाने का आदेश दिया है। जिस मार्ग पर 110 किलो मीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से ट्रेन चलाने की अनुमति है, उस मार्ग पर स्पीडो मीटर द्वारा 115 किलो मीटर प्रति घंटा से ट्रेन चलाने की रिपोर्ट पर दंड नहीं दिया जाएगा। लेट होने पर चालक गति को 75 से बढ़ाकर 110 किलो मीटर प्रति घंटा की रफ्तार से चला सकता है।




>ट्रेनों को निर्धारित समय पर चलाने की योजना

>ट्रैक पर आने वाली बाधाओं को किया जा रहा है दूररेल लाइन बदले जाने व अन्य काम के बाद लखनऊ-मुरादाबाद के बीच ट्रेन संचालन में एक घंटे का समय कम हो गया है। अन्य रेल मार्ग पर भी सुधार हुआ है। इसी कारण अधिकतर ट्रेनें निर्धारित समय पर चल रही हैं। लेट होने पर चालक अब निर्धारित गति से ट्रेनें चला पाएंगे। अजय कुमार सिंघल, मंडल रेल प्रबंधक,मुरादाबाद।

Category: Indian Railways, News

About the Author ()

Comments are closed.