Salary Sacm jolts railway, 53 loco pilots chargesheeted

| August 18, 2018

वेतन घोटाले का पर्दाफाश होने के बाद पानीपत लोको लॉबी में तीन माह से हड़कंप मचा है। लॉबी में कार्यरत 53 ट्रेन चालकों के नाम से एस 5 चार्जशीट जारी कर दी गई है। दोषी पाए जाने पर इंक्रीमेंट रोकने से लेकर निलंबित किया जा सकता है। वेतन घोटाले में 1.50 करोड़ रुपये का चूना लगने का अनुमान है।








पानीपत स्टेशन पर लोको लॉबी में लगभग 150 ट्रेन चालक शिफ्टों में ड्यूटी देते हैं। आरोप है कि वेतन क्लर्क शशिभूषण ने कुछ चालकों से गुपचुप तरीके से सांठगांठ कर विभिन्न मदों में ज्यादा वेतन बना दिया। सैलरी में ज्यादा पैसा आने के बावजूद ट्रेन चालकों ने विभाग में किसी तरह की शिकायत नहीं दर्ज कराई। अलाउंस के नाम पर ज्यादा वेतन का भुगतान करवा देता था। लॉबी के एक वरिष्ठ अधिकारी के पास शिकायत आने पर इस घोटाले का पर्दाफाश हुआ। वेतन बनाने वाले क्लर्क का तबादला तीन माह पहले उत्तर रेलवे मुख्यालय कर दिया गया। ऑडिट टीम जब पानीपत से सारा रिकार्ड उठा कर ले गई तो जांच के बाद इस घोटाले का पर्दाफाश हुआ। रेलवे सूत्रों के मुताबिक कुछ चालकों के खाते में वेतन के मद में आठ से 10 लाख का भुगतान करा दिया गया।




क्या है एस-5 चार्जशीट

रेल विभाग में कामकाज के दौरान गलती करने पर रेलकर्मियों को चार्जशीट करते हैं। छोटी गलती के लिए एसएफ-11 चार्जशीट देते हैं। एस-5 (स्टैंडर्ड फार्म नंबर 5 फॉर मेजर पनिशमेंट) चार्जशीट सबसे बड़ी सजा है। चालकों को चार्जशीट देने के बाद इसकी जांच होगी। जांच अधिकारी प्रत्येक चालक से अलग से लिखित जवाब लेंगे। जांच पूरी होने के बाद मुख्यालय में रिपोर्ट जमा कराएंगे। 30 फीसद ज्यादा मिलता है वेतन

मंडल कार्यालय के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक लोको पायलट की ड्यूटी जोखिम भरी होती है। अन्य रेलकर्मियों के मुकाबले उन्हें 30 फीसद अधिक वेतन मिलता है। र¨नग लीव, यूनिफार्म और वे¨टग अलाउंस सैलरी में जोड़ कर मिलता है। वेतन क्लर्क अलाउंस में ज्यादा राशि जोड़ कर सैलरी बढ़ा देता था। कंप्यूटराइज्डव्यवस्था में खाते में ज्यादा पैसा आने के बावजूद ट्रेन चालकों ने इस पर कोई आपत्ति नहीं जताई। जांच रिपोर्ट पर कार्रवाई : अधिकारी




उत्तर रेलवे दिल्ली मंडल के सीनियर डीई रैंक के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि चालक अब अपना पक्ष रखेंगे। जांच रिपोर्ट के आधार पर दोषी पाए जाने पर विभाग सख्त कार्रवाई करेगा।

Category: Indian Railways, News

About the Author ()

Comments are closed.