नहीं बनी बात – सैलरी पर बेनतीजा रही सरकार के साथ बातचीत

| July 31, 2018

कर्मचारियों की सैलरी बढ़ाने का प्रस्ताव सिर्फ बैठकों की भेंट चढ़ता जा रहा है। इंडियन बैंक एसोसिएशन यानि आईबीए के साथ सैलरी बढ़ाने को लेकर बैंक कर्मचारी संगठनों की सोमवार को हुई दूसरे दौर की बैठक भी बेनतीजा रही।







इस बैठक में आईबीए ने बैंक कर्मचारी संगठनों (आईबीओ) को 2 फीसदी से बढ़ाकर 6 फीसदी वेतन बढ़ाने का प्रस्ताव दिया, लेकिन कर्मचारी संगठनों ने इसी भी मानने से इनकार कर दिया। बैंक कर्मचारियों के साथ मई महीने में आईबीओ की बैठक हुई थी जिसमें 2 फीसदी सैलरी बढ़त का प्रस्ताव दिया गया था, लेकिन इसके जवाब में बैंक कर्मचारियों ने प्रस्ताव को ठुकराते हुए 2 दिन की देशव्यापी हड़ताल भी की थी। बैंक कर्मचारी करीब 25 फीसदी वेतन बढ़त की मांग कर रहे हैं।




ताजा बैठक सोमवार को हुई जिसमें बैंक कर्मचारियों को पिछले प्रस्ताव से तीन गुना ज्यादा बढ़त की पेशकश की गई है। हालांकि बैंक कर्मचारी संगठनों को आईबीए ने बातचीत का एक और मौका देने की भी पेशकश की है। नई पेशकश के तहत अगस्त महीने में अलग-अलग मुद्दों पर 4 दौर की बैठकों के बाद ये तय होगा कि सैलरी बढ़ाने की संरचना किस तरह की रखी जाए। पहली बैठक 8 अगस्त को होगी जिसमें मेडिकल इंश्योरेंस के मुद्दों पर चर्चा होगी। वहीं 17 अगस्त को दूसरी बैठक आईबीओ के साथ यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियंस की बैठक होगी। बैंक की छोटी कमेटियों के साथ बैठक 18 अगस्त को होगी और 27 और 28 अगस्त को सैलरी पर समझौते के लिए इस दौर की अंतिम बैठक होगी।




पिछला वेतन समझौता मई 2015 को हुआ था जो नवंबर 2012 से लेकर अक्तूबर 2017 तक के लिए था। नवंबर 2017 से बैंक कर्मचारियों का 11वां वेतन समझौता होना है। उम्मीद की जा रही है कि अगली बैठक में तमाम मुद्दों पर हल निकल सकता है और आईबीए एक संतोषजनक सैलरी का ऑफर दे सकता है। .

‘ 2 फीसदी से बढ़ाकर 6 फीसदी वेतन का प्रस्ताव दिया गया था.

‘ बैंक कर्मचारी करीब 25 फीसदी वेतन बढ़त की मांग कर रहे हैं.

Category: Indian Railways, News

About the Author ()

Comments are closed.