रेलवे भर्ती 2018: अभी आवेदनों की स्क्रूटनी पर लगेगा और वक्त, करोड़ों आवेदनों की छंटाई का काम जारी

| June 2, 2018

कुछ माह पहले निकाली गई रेलवे भर्ती के लिए फॉर्म भरने वालों को परीक्षा के लिए अभी इंतजार करना होगा। मई तक परीक्षा करा लेने के दावे पर रेलवे भर्ती बोर्ड खरा नहीं उतर सका है। अब तर्क दिया जा रहा है कि लाखों लाख फॉर्म आ जाने के कारण अभी तक आवेदनों की स्क्रूटनी पूरी नहीं हो सकी है। यह काम पूरा होने के बाद ही परीक्षा कराई जा सकेगी। ऐसे में भर्ती परीक्षा में अभी देरी दिख रही है।







रेलवे में 26,502 सहायक लोको पायलट और ग्रुप डी के 88 हजार से अधिक पदों पर भर्ती निकाली जा चुकी है। इन पदों के लिए सीईएन 01/2018 और सीईएन 02/2018 के तहत भर्ती विज्ञापित की गई। सहायक लोको पायलट तथा अन्य पदों के लिए 2.43 करोड़ से अधिक अभ्यर्थियों ने देशभर से फॉर्म भर दिया। सिर्फ, आरआरबी इलाहाबाद में ही लाखों फॉर्म पहुंच गए। इतनी बड़ी तादाद में आवेदन पहुंचने से बोर्ड के कर्मचारी अब तक स्क्रूटनी पूरी नहीं कर सके हैं।



ऐसे में फॉर्मों की स्क्रूटनी के बाद ही कॉमन भर्ती परीक्षा के लिए प्रक्रिया शुरू की जा सकेगी। आरआरबी इलाहाबाद के चेयरमैन एसएएम नकवी के अनुसार, बेहिसाब आवेदन आने से फॉर्मों की स्क्रूटनी का काम लंबा खिंच गया। यह काम पूरा होने पर परीक्षा की तिथियां वेबसाइट पर जारी की जाएंगी।




अप्रैल-मई में होनी थी परीक्षा
आरआरबी इलाहाबाद को सहायक लोको पायलट के 4694 और विभिन्न पदों की 6685 रिक्तियों पर भर्ती करनी है। आरआरबी इलाहाबाद को उत्तर मध्य रेलवे के अलावा उत्तर रेलवे के लिए भी भर्ती करनी है। सहायक लोको पायलट के उत्तर मध्य रेलवे में 3413 और उत्तर रेलवे में 1281 पद हैं।

Category: Indian Railways, News

About the Author ()

Comments are closed.