रेलवे रेस्ट हाउस-हॉली डे होम की ऑनलाइन बुकिंग होगी

| June 2, 2018

रेलवे स्टेशन स्थित रिटायरिंग रूम के बाद अब रेलवे ऑफिसर रेस्ट हाउस, हॉली डे होम, कम्युनिटी सेंटर-हॉल, स्टाफ रेस्ट रूम की ऑनलाइन बुकिंग होगी। इतना ही नहीं रेलवे टिकट की तर्ज पर गेस्ट हाउस बुकिंग रद्द होने पर वेटिंग को कमरा मिलेगा। अधिकारी-कर्मचारी स्वयं अथवा अपने मेहमानों के लिए अब सीमित दिनों के लिए बुकिंग करा सकेंगे। बुकिंग की निगरानी डिविजन व रेलवे बोर्ड स्तर से की जाएगी। इसका मकसद अफसरशाही पर अंकुश लगाकर रेल संपत्ति का दुरुपयोग रोकना है। जिससे जरूरतमंदों को ठहरने का स्थान हासिल हो सके।.








रेलवे बोर्ड ने 31 मई को केंद्रीय रेलवे सूचना प्रणाली (क्रिस) को ऑनलाइन बुकिंग के लिए सॉफ्वेयर तैयार करने के निर्देश दिए हैं। सूत्रों का कहना है कि देश के महानगरों दिल्ली, मुंबई, कोलकाता, चेन्नई सहित प्रमुख पर्यटक स्थलों के आसपास रेलवे ऑफिसर रेस्ट हाउस (ओआरएच), हॉली डे होम, स्टाफ रेस्ट रूम बने हुए हैं। निजी होटल अथवा गेस्ट हाउस में मंहगी कीमत पर कमरे मिलते हैं। .




उनकी अपेक्षाकृत रेलवे के कमरे काफी सस्ते व सुविधाजनक होते हैं। पीक सीजन में रेल अधिकारी और तथाकथित उनके मेहमान के नाम पर मनमुताबिक एडवांस में कमरे बुक करा लेते हैं। बाद में बुकिंग आगे बढ़ा लेते हैं।रेलवे बोर्ड ने रेल संपत्ति के दुरुपयोग को रोकने के लिए कमरों की बुकिंग ऑनलाइन कर दी है। नए नियम में 70 फीसदी कमरें ऑनलाइन बुक होंगे जबकि महज 30 फीसदी इमरजेंसी मैन्युअल बुक किए जा सकेंगे। इसके साथ ही अधिकारी पीक सीजन में अधिकतम तीन दिन के लिए तीन कमरें ही बुक करा सकेंगे। इसके साथ ही कमरों की बुकिंग का अधिकारी सिर्फ डीआरएम के पास होगा।.




रेलवे के अन्य उपक्रम कमरों की बुकिंग नहीं करा सकेंगे। ऑनलाइन बुकिंग के समय अधिकारी को अपना नाम, पद, पे ग्रेड, आईडी प्रूफ, आधार नंबर, ई मेल देना होगा। इसके पश्चात अधिकारी का पासवर्ड व यूजर नेम जनरेट किया जाएगा। सिस्टम से सत्यापन के बाद कमरा बुक करने की प्रक्रिया पूरी होगी। इसी प्रकार ऑनलाइन चेक इन व चेक आउट की सुविधा होगी। जिसे अधिकारी स्वयं अथवा स्टाफ के माध्यम से कर सकेंगे। .

Category: Indian Railways, News

About the Author ()

Comments are closed.