केंद्र को बैंक कर्मियों की चेतावनी, वेतन बढ़ाइए नहीं तो सहयोग नहीं

| June 2, 2018

बैंक कर्मियों का कहना है कि आधार कार्ड बनाने से लेकर अन्य योजनाओं से संबंधित कार्य सरकार कराती है, नेशनल आर्गनाइजेशन ऑफ बैंक वर्कर्स के वाइस प्रेसीडेंट अश्विनी राणा ने कहा कि बैंक यूनियन इस मामले में निश्चित तौर पर जल्द ही कोई ठोस फैसला लेगी

सरकार 2 पर्सेंट वेतन बढ़ाने के पक्ष में, बैंक कर्मी 25 पर्सेंट बढ़ोतरी की मांग कर रहे हैं







बैंक कर्मचारियों ने सरकार को चेतावनी दी है कि अगर उनके वेतन में बढ़ोतरी नहीं की गई तो वे सरकारी योजनाओं को लागू करने में सहयोग नहीं करेंगे। बैंक कर्मचारियों का कहना है कि सरकार आधार कार्ड बनाने से लेकर अन्य योजनाओं से संबंधित कार्य बैंक कर्मचारियों से कराती है, मगर इतना काम करने के बाद भी उनके वेतन में बढ़ोतरी के नाम पर 2 फीसदी की बढ़ोतरी का झुनझुना थमा रही है। ऐसे में वे किस तरह से सरकार का सहयोग कर सकते हैं। गौरतलब है कि बैंक कर्मचारियों ने वेतन बढ़ोतरी और अन्य मांगों को लेकर 30 और 31 मई को देशव्यापी हड़ताल की थी। बैंक कर्मचारी अपने वेतन में 25 फीसदी बढ़ोतरी की मांग कर रहे हैं। सरकार और बैंकों का कहना है कि इस वक्त बैंकिंग सेक्टर संकट के दौर से गुजर रहा है। एनपीए बढ़ रहा है, ऐसे में वह बैंक कर्मचारियों के वेतन में ज्यादा बढ़ोतरी नहीं सकता।





नेशनल आर्गनाइजेशन ऑफ बैंक वर्कर्स के वाइस प्रेसीडेंट अश्विनी राणा ने एनबीटी से बातचीत में कहा, हमने दो दिन की हड़ताल की थी, मगर सरकार या आईबीए की तरफ से बातचीत का कोई संकेत नहीं मिला। ऐसे में हमने सरकार से कहा है कि बैंक कर्मचारी पिछले चार साल से नोटबंदी, जनधन खाते खुलवाने, प्रधानमंत्री बीमा योजना, अटल पेंशन योजना, ग्राम स्वराज्य अभियान, प्रधानमंत्री फसल बीमा और आधार कार्ड बनाने में लगे हैं। क्या यह बैंकों का काम है। इतना काम करने के बाद भी अगर सरकार हमारा वेतन बढ़ाने को तैयार नहीं है तो हम क्यों ये सब काम करेंगे। हम बैंक कर्मी हैं और बैंक से संबंधित काम करेंगे। बैंक यूनियन इस मामले में निश्चित तौर पर जल्द ही कोई ठोस फैसला लेगी।




सरकार ने दी छूट

केंद्र सरकार ने बैंकों के लिए आधार एनरोलमेंट/अपडेट के टारगेट में छूट दी है। सूत्रों के अनुसार, यूआईडीएआई ने बैंकों के आधार सेंटर पर रोज 8 आधार एन्‍रोलमेंट या अपडेट का टारगेट तय किया है। 1 जुलाई से यह लागू हो जाएगा। इससे पहले यूआईडीएआई ने 1 जून से 16 आधार एनरोलमेंट/अपेडशन का लक्ष्य दिया था।

सूत्रों के अनुसार, बैंक ब्रांच में आधार सेंटर पर एनरोलमेंट/अपडेशन की न्‍यूनतम सीमा 1 अक्‍टूबर से बढ़कर 12 होगी। वहीं, 1 जनवरी 2019 से प्रत्‍येक ब्रांच पर 16 आधार एन्‍रोलमेंट या अपडेशन करना होगा। सूत्रों का कहना है कि बैंकों की तरफ से आधार सेंटर बनाने और स्‍टॉफ की दिक्‍कतों को देखते हुए यूआईडीएआई ने आधार एन्‍रोलमेंट/अपडेशन के लक्ष्‍य में ढील दी है।

यूआईडीएआई की ओर से जारी किए दिशा-निर्देश के मुताबिक, बैंकों को 31 मई, 2018 से पहले 10 ब्रांच में से कम से कम 1 ब्रांच में आधार सेंटर स्थापित करना है। उनको आधार सेंटर को ऑपरेशनल कर रोज 16 एनरोलमेंट या अपडेट का टारगेट हासिल करना था, जिसे अब घटाकर 8 कर दिया गया है। फाइनेंशियल डिसइनसेंटव से बचने के लिए बैंकों के लिए ऐसा करना जरूरी है।

Category: Banking, News

About the Author ()

Comments are closed.