लंबित मांगों को लेकर रेल कर्मचारी करेंगे आंदोलन, जल्द तय होगी तारीख

| May 18, 2018

रेलवे में लगभग तेरह लाख कर्मचारियों में से साढे पांच लाख रेलकर्मचारी एनपीएस के दायरे में आ चुके हैं, इसके अलावा न्यूनतम वेतन 26 हजार की जगह 18 हजार दिया जा रहा है जिसको लेकर भी रेलकर्मियो में नाराजगी है.








रेलकर्मियों की लंबित मांगो पर निर्णय नही करने व टाल मटोल की नीति अपनाने के विरोध में रेल कार्मिको का केंद्र सरकार के खिलाफ आंदोलन जारी है. रेलवे कर्मचारी न्यू पेंशन स्कीम, न्यूनतम वेतन सहित आधा दर्जन मांगो को लेकर बड़े आंदोलन की तैयारी कर रहे हैं.





इस आंदोलन को लेकर जून माह में एक राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक होगी जिसमें हड़ताल की तारीख तय की जाएगी. ऑल इंडिया रेलवे मेन्स फेडेरेशन के सहायक महामंत्री मुकेश गालव के ने बताया कि पेंशन बुढापे का सहारा माना जाता है, लेकिन केंद्र सरकार ने न्यू पेंशन स्कीम के नाम पर रेलकर्मियों के साथ धोखा किया है.

रेलकर्मियों में केंद्र सरकार की इस नीति को लेकर रोष है. गालव के अनुसार रेलवे में लगभग तेरह लाख कर्मचारियों में से साढे पांच लाख रेलकर्मचारी एनपीएस के दायरे में आ चुके हैं, इसके अलावा न्यूनतम वेतन 26 हजार की जगह 18 हजार दिया जा रहा है जिसको लेकर भी रेलकर्मियो में नाराजगी है.




गालव ने आरोप जड़ा है कि पहले ही राष्ट्रीय स्तर की हड़ताल को टालने के लिए केंद्र सरकार ने समझौता कर लिया, लेकिन उनकी शर्तो को साल भर बाद भी नहीं लागू किया. इसको लेकर अब रेलकर्मचारियो के साथ केंद्रीय कर्मचारी और राज्य कर्मचारी मिलकर बड़ा आंदोलन करेंगे.

Category: Indian Railways, News, Uncategorized

About the Author ()

Comments are closed.