Another scam jolts Railways, this time in Hospital

| May 12, 2018

रेलवे में नौ डॉक्टरों के नाम पर उड़ा रहे थे वेतन-भत्ते, ‘ उत्तर रेलवे के केंद्रीय चिकित्सालय का मामला, वेतन बनाने वाला रेलकर्मी निलंबित

उत्तर रेलवे के चेम्सफोर्ड रोड के करीब स्थित केंद्रीय अस्पताल में नौ फर्जी रेजिडेंट डॉक्टरों के वेतन के नाम पर लाखों रुपये निकाले जाने का मामला सामने आया है। इन डॉक्टरों के नाम पर टीए, डीए व कई अन्य तरह के भत्ते भी खाता खोल कर निकाल लिए गए। प्राथमिक जांच में पाया गया है कि लगभग पिछले दो सालों से इन डॉक्टरों के नाम पर पैसे निकाले जा रहे थे।.








घोटाले में शामिल होने के आरोप में रेलवे की ओर से तत्काल प्रभाव से इन डॉक्टरों का वेतन बनाने वाले रेल कर्मी को निलंबित कर दिया गया है। वहीं, इस रेल कर्मी के इंचार्ज को स्थानांतरित कर दिया गया है। मामले की गंभीरता को ध्यान में रखते हुए रेलवे की ओर से इसकी जांच सतर्कता विभाग को दे दी गई है। वहीं, इस मामले में पहाड़गंज थाने में एक शिकायत दी गई है। रेलवे के वरिष्ठ अधिकारियों की मानें तो इस घोटाले में कई अन्य लोगों के शामिल होने की भी आशंका है। इसको ध्यान में रखते हुए जांच की जा रही है।.




अबतक करोड़ों का चूना लगा : रेलवे के वरिष्ठ अधिकारियों के अनुसार एक रेजिडेंट डॉक्टर को रेलवे की ओर से वेतन के तौर पर करीब 70 से 80 हजार रुपये हर महीने भुगतान किए जाते हैं। ऐसे में संभावना जतायी जा रही है कि नौ डॉक्टरों को दो वर्ष में लगभग 1.7 करोड़ रुपये का भुगतान किया गया।.

ऐसे पकड़ में आया मामला : रेलवे की ओर से रेल कर्मियों के वेतन व अन्य भत्तों के भुगतान के लिए एक नया सॉफ्टवेयर प्रयोग किया जा रहा है। उत्तर रेलवे की ओर से हाल ही में ऐसे सभी कर्मचारियों की लिस्ट तैयार की गई जिन्हें वेतन व भत्तों के आधार पर काफी इनकम टैक्स बनता था। साथ ही इन्हें किए जाने वाले भुगतान में संदेह उत्पन्न होता था। इसी के तहत सोमवार को रेलवे की एक टीम ने सेंट्रल अस्पताल के इन नौ डॉक्टरों के रिकॉर्ड की जांच शुरू की। रिकॉर्ड की जांच करने पर पता चला कि ये डॉक्टर अस्पताल में कभी नियुक्त ही नहीं किए गए।.




 रेलवे की ओर से इस मामले को काफी गंभरता से लिया गया है। इस मामले में शामिल किसी भी दोषी को छोड़ा नहीं जाएगा। मामले की बेहतर जांच हो सके इसके लिए भी कई कदम उठाए जा रहे हैं। – नितिन चौधरी, * मुख्य जनसंपर्क अधिकारी, उत्तर रेलवे.

Category: Indian Railways, News

About the Author ()

Comments are closed.