Railway Hunger Strike – Fight is on for to bring Old Pension Scheme

| May 11, 2018

केन्द्र सरकार के खिलाफ नार्दन रेलवे मेंस यूनियन(नरमू) से जुड़े रेल कर्मचारी 72 घंटे के आंदोलन पर है। कर्मचारी तीसरे दिन भी सड़कों पर रहे। मंडल भर में 18 ब्रांचों ने जगह-जगह धरना दिया। मुद्दा नई पेंशन प्रणाली है। यूनियन ने एनपीएस को दोषपूर्ण मानते हुए पुरानी पेंशन प्रणाली को कर्मचारी हित में माना है। गुरुवार को रेल अस्पताल के बाहर कर्मचारियों ने धरना दिया और विरोध जताया। धरना शुक्रवार की सुबह 10 बजे समाप्त होगा। .








 आम कर्मचारियों के लिए अहितकर एनपीएस(न्यू पेंशन स्कीम) का विरोध हो रहा है। नरमू के महामंत्री शिव गोपाल मिश्रा के आहवान पर मुरादाबाद में भी रेल कर्मचारियों ने धरना दिया। यूनियन की मंडल भर में विभिन्न ब्रांचों में धरना तीन दिन से चल रहा है। गुरुवार को यूनियन ने विभिन्न दफ्तरों पर तीसरे दिन भी धरने पर बैठे। क्रमिक अनशन देकर कर्मचारियों ने केन्द्रीय नीति पर विरोध जताया। 72 घंटों का धरना दे रहे मेन ब्रांच के अध्यक्ष अखिलेश कुमार गुप्ता और शाखा सचिव सुनील शर्मा का कहना है कि रेल कर्मचारियों के लिए सरकार की नीति लाभप्रद नहीं है। उन्होंने पुरानी पेंशन नीति की वकालत की। बताया कि फैमिली पेंशन बहाल करने, न्यूनतम वेतन, फिटनेस फार्मूले में दिए गए भरोसे के अनुरूप तत्काल सुधार, निजीकरण और नियमिती करण की नीति पर रोक लगे। रेल अस्पताल में धरने में नरमू नेता डीएन चौबे, एमपी चौबे, मंडल मंत्री राजेश चौबे, पीएस नेगी के अलावा हेमराज सेानी, एसएएन नकवी, एके भारद्वाज, राम, उमेश, एके चमोली, श्रीश, आईवन एडीशन समेत तमाम रेल कर्मचारी मौजूद रहे।.



तीन दिन बाद भी जारी है रेलकर्मियों की भूख हड़ताल, ये हैं मागें

जयपुर। अपनी मांगों को लेकर लंबे वक्त से विभाग से नाराज चल रहे रेलकर्मियों की हड़ताल आज चोथे दिन भी जारी है। बता दें कि ऑल इंडिया रेलवे मैन्स फैडरेशन के आह्वान पर ये कर्मचारी पहले ही 72 घंटे का भूखहड़ताल कर चुके हैं।

गौरतलब है कि रेलवे के ये कर्मचारी सातवें वेतन आयोग की विसंगतियों को दूर करने, गांरटीड पेंशन नीति लागू करने और रेलवे में निजीकरण रोकने की मांग को लेकर प्रद्रर्शन कर रहें हैं और उन्होंने बताया है कि वो इस हड़ताल को 11 मई की सुबह 9 बजे ही खत्म करेंगे।



उल्लेखनीय है कि हड़ताल में उत्तर-पश्चिम रेलवे के नॉर्थ वेस्टर्न रेलवे एम्प्लॉईज यूनियन ने भी हिस्सा लिया। वहीं रेलवे के अधिकारियों ने अब हड़ताली कर्मचारियों को मनाना शुरू कर दिया है। जानकारी के मुताबिक अधिकारियों ने मुकेश माथुर व अन्य हड़ताली कर्मचारियों को जूस पिलाकर हड़ताल तुड़वाया। वहीं मंडल कार्यालय पर मंडल अध्यक्ष मुकेश चतुर्वेदी और मंडल मंत्री आरके सिंह की भी हड़ताल तुड़वाई गई।

Category: Indian Railways, News

About the Author ()

Comments are closed.