Female Loco Pilots to run long distance trains

| May 1, 2018

लंबी दूरी की ट्रेन महिला लोको पायलट चलाएंगी, आरपीएफ में 4500 पदों पर भर्ती

लंबी दूरी की ट्रेनों की ड्राइविंग सीट (लोको पायलट) अब महिलाएं संभालेंगी। ट्रेन को हरी झंडी महिला गार्ड दिखाएंगी और कोच में यात्रियों का टिकट चेक भी महिलाएं करेंगी। इतना ही नहीं यात्रियों को बेडरोल भी महिला अटेंडेंट देंगी। रेल मंत्री पीयूष गोयल की महिला सशक्तिकरण योजना में ट्रेनों में क्रू सदस्यों की महिला और पुरुषों की संख्या बराबर यानी 50:50 फीसदी की जाएगी। इसके लिए रेलवे महिलाओं की नई भर्तियों भी कर सकता है।.









मौजूदा समय में मुंबई में कुछ लोकल ट्रेनों में महिला लोको पायलट हैं। जहां तक क्रू सदस्यों का प्रश्न है वहां महिलाओं के लिए एकदम नई भूमिका होगी। रेलवे बोर्ड के अधिकारियों ने बताया कि गोयल के निर्देश पर रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष अश्विनी लोहानी ने महिला सशक्तिकरण के लिए एक्शन प्लान तैयार किया है।



क्रू सदस्यों में 50 फीसदी महिलाएं होंगी: महिला रेल यात्रियों के लिए अलावा लंबी दूरी की लगभग 4000 हजार ट्रेनों में महिला और पुरुष क्रू सदस्यों की संख्या 50:50 फीसदी की जाएगी। इसके लिए ट्रेनों में चेकिंग स्टाफ (टीटीई) महिला-पुरुष बराबर होंगे। महिला कर्मचारियों की तैनाती गार्ड व ड्राइवर के रूप में भी होगी। शुरुआती दौर में रेलवे की प्रीमियम ट्रेनों राजधानी एक्सप्रेस, शताब्दी एक्सप्रेस व दुरंतो में महिला कर्मियों को क्रू सदस्य के पद पर तैनात किया जाएगा।.





सुपरफास्ट ट्रेनों में महिला क्रू होंगी : मेल-एक्सप्रेस और सुपरफास्ट ट्रेनों में महिलाओं को क्रू सदस्यों के रूप में नियुक्त किया जाएगा। ट्रेनों में महिला क्रू सदस्यों की तैनाती अकेले अथवा समूह में सफर करने वाली महिला रेल यात्रियों को सुरक्षा का आभास कराने के लिए है। .

रेलवे बोर्ड के अधिकारी ने बताया कि रेलवे सुरक्षा बल में 4500 पदों पर महिलाओं की भर्ती की जाएगी। आरपीएफ में भर्ती के लिए मंजूरी ले ली गई है। इसकी अधिसूचना मई के पहले हफ्ते में जारी की जा सकती है। उन्होंने बताया, आरपीएफ के कुल स्वीकृत पदों में से 10 फीसदी महिलाओं के लिए आरक्षित हैं। वर्तमान में आरपीएफ में 2400 महिला कांस्टेबल हैं। इनकी संख्या 6900 करनी है। यानी 4500 महिलाओं की भर्ती की जाएगी।.

Source:- Hindustan

Category: Indian Railways, News

About the Author ()

Comments are closed.