रेलवे के वरिष्ठ अधिकारियों के घरों में काम करते मिले रेलवे ट्रैकमैन, नपे कई अधिकारी

| April 17, 2018

उत्तर रेलवे ने ट्रैकमैनों को अपने घरों में घरेलू नौकरों के रूप में रखने के आरोपों के बाद कुछ अधिकारियों को निलंबित कर दिया.

नई दिल्ली: उत्तर रेलवे ने ट्रैकमैनों को अपने घरों में घरेलू नौकरों के रूप में रखने के आरोपों के बाद कुछ अधिकारियों को निलंबित कर दिया. रिपोर्ट पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुये रेलवे बोर्ड के चैयरमैन अश्विनी लोहानी ने बताया कि रेलवे यह सुनिश्चित करने के लिए पूरी तरह प्रतिबद्ध है कि उसकी मशीनरी का दुरुपयोग नहीं हो.

भोपाल में रेलवे के एक पुरस्कार समारोह में अधिकारियों और मीडियाकर्मियों के साथ बातचीत में लोहानी ने कहा, ‘‘ अपने प्रयासों में हम यह देखने के लिए पूरी तरह से प्रतिबद्ध हैं कि हमारी सरकारी मशीनरी या हमारी कर्मचारियों की सेवा का दुरूपयोग ना हो. ’’








  एक टेलीविजन चैनल पर प्रसारित खबर पर संज्ञान लेते हुये उत्तर रेलवे के महाप्रबंधक विश्वेश चौबे ने संबंधित अधिकारियों को तत्काल निलंबित करने का निर्देश दिया था.

रेलवे बोर्ड के चेयरमैन अश्वनी लोहानी बोले- पांच साल में देश में दौड़ेंगी हाई स्पीड ट्रेनें

रेलवे बोर्ड के चेयरमैन अश्वनी लोहानी ने कहा कि पूर्व मध्य रेलवे जोन में सभी यात्री ट्रेनें अब 110 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चलेंगी.

 रेलवे बोर्ड के चेयरमैन अश्वनी लोहानी ने शुक्रवार को पटना में न्यूज 18 से खास बातचीत में कहा देश में 2023 में हाई स्पीड टेेनें दौड़ने लगेंगी. इसपर तेजी से काम किया जा रहा है. रेलवे के सोशल मीडिया पर काफी सक्रिय होने के सवाल पर उन्होंने कहा कि आज ये समय की जरुरत है और लोगों को इससे काफी सुविधा हो रही है.




Category: Indian Railways, News

About the Author ()

Comments are closed.