दो साल में देश की सभी मानवरहित क्रॉसिंग खत्म होंगी: अश्वनी लोहानी

| April 3, 2018

दैनिक भास्कर से विशेष बातचीत में अश्वनी लोहानी ने कई मुद्दों पर खुलकर विचार रखे।








रेलवे बोर्ड चेयरमैन अश्वनी लोहानी यात्रियों की सुविधा और सुरक्षा से जुड़ा ब्लू प्रिंट तैयार कर रहे हैं। ट्रैक मेंटीनेंस और अनमैंड क्रॉसिंग को खत्म करने पर वह विशेष जोर देर रहे हैं। दैनिक भास्कर से विशेष बातचीत में उन्होंने कई मुद्दों पर खुलकर विचार रखे। पेश है बातचीत के प्रमुख अंश : Q. देश में करीब साढ़े तीन हजार अनमैंड क्रॉसिंग हैं। ये कब तक खत्म कर ली जाएंगी?
A.मेरी प्राथमिकता सेफ्टी और ट्रैक मेंटीनेंस है। हादसे रोकने के लिए हम लगातार प्रयासरत हैं। सभी मानवरहित क्रॉसिंग को 2 साल में खत्म कर दिया जाएगा।




Q. पैसेंजर की आम शिकायत रहती है कि ट्रेनें समय से नहीं चलती हैं। इसके लिए क्या कर रहे हैं?
A. देश के दो प्रमुख रेलवे ट्रैक दिल्ली से कोलकाता व दिल्ली से मुंबई पर पर काम चल रहा है। यह काम 2020 तक पूरा हो जाएगा। इससे लेटलतीफी की शिकायत काफी दूर हो जाएगी। ट्रेनों की स्पीड बढ़ाने का भी प्रयास है।




Q. स्टेशनों पर सुविधाओं की दिशा में क्या ठोस कदम उठाए गए हैं?
A.देश के 68 प्रमुख स्टेशनों पर सुविधाओं पर काम अगले माह से शुरू हो जाएगा। इसमें एफओबी, एस्केलेटर, लिफ्ट, वेटिंग रूम और स्टेशन के आसपास के इलाके शामिल हैं। मार्च 2019 से पहले इन स्टेशनों की सूरत बदल जाएगी।

Q. रेलवे की बेहतरी के लिए आपके द्वारा लिया गया कोई बड़ा फैसला?
A.मैंने वर्ष 2018-2019 को जीरो वर्ष घोषित किया है। यानी इस वर्ष ट्रेनों की लेटलतीफी व अन्य शिकायतों की तुलना पिछले वर्षों से नहीं की जाएगी। अभी तक आंकड़े पिछले वर्षों से कम करके दिखाए जाते थे। इससे वास्तविक स्थिति नहीं पता चलती थी।

Source:- DB

Category: Indian Railways, News

About the Author ()

Comments are closed.