रेलवे बोर्ड में अधिकारियों की संख्या आधी होगी

| February 6, 2018

 रेलमंत्री के आदेश के बाद 250 अधिकारियों को जाना होगा बाहर, 100 अधिकारियों को स्थानंतरण का आदेश दिया, बाकी की प्रक्रिया जारी








रेल मंत्री पीयूष गोयल ने रेलवे बोर्ड में कार्यरत वरिष्ठ अधिकारियों की संख्या को आधा करने का फैसला किया है। उन्होंने फरवरी के दूसरे सप्ताह तक उक्त 50 फीसदी अधिकारियों को रेलवे जोन और मंडल में तैनात करने को कहा है।उनके इस फैसले से कुल 500 अधिकारियों में से 250 अधिकारियों को दिल्ली से बाहर जाना पड़ेगा। इसमें 100 से अधिक अधिकारियों को दिल्ली के बाहर जाने का आदेश जारी किया जा चुका है।




रेल मंत्रलय के सूत्रों ने बताया कि सितंबर 2017 तक रेलवे बोर्ड में कुल स्वीकृत पदों पर तैनात अधिकारियों को आधा करने का फैसला किया गया था। वर्षो से दिल्ली में जमे रेलवे के वरिष्ठ अधिकारी दिल्ली से बाहर नहीं जाना चाहते हैं। इसलिए इस आदेश के पालन में हीलाहवाली चल रही थी। सूत्रों ने बताया कि गोयल ने 29 जनवरी को पूर्ण रेलवे बोर्ड की बैठक में वरिष्ठ अधिकारियों को बाहर भेजने की नीति पर सख्ती से पालन करने के लिए कहा।




रेलवे बोर्ड ने ठेकेदारों पर कसी लगाम

 भारतीय रेलों में मरम्मत एवं उत्पादन के साथ स्टेशनों के रखरखाव के कार्य ठेकेदारों द्वारा श्रमिकों से कराए जा रहे…

भारतीय रेलों में मरम्मत एवं उत्पादन के साथ स्टेशनों के रखरखाव के कार्य ठेकेदारों द्वारा श्रमिकों से कराए जा रहे हैं। ऐसे में उनकी सुरक्षा व अन्य समस्याओं को ध्यान में रखते हुए रेलवे बोर्ड ने ठेकेदारों को दिशा निर्देश जारी किए हैं। वेस्ट सेन्ट्रल रेलवे मजदूर संघ के मंडल सचिव एसडी धाकड़ व केन्द्रीय कार्यकारिणी सदस्य जेडी सिंह गुर्जर ने बताया कि ठेकेदार द्वारा कर्मचारियों को दैनिक भत्ते के रूप में निर्धारित दर से कम भुगतान किया जाता है। वहीं अन्य सुविधाएं भी नहीं दी जाती।
इन श्रमिकों के अधिकारों के संरक्षण के लिए दिशा-निर्देश जॉइंट डायरेक्टर रेलवे बोर्ड ने जारी किए हैं। निर्देश के तहत भुगतान बैंक के माध्यम से चैक द्वारा करने, वेतन से कटौती की गई भविष्य निधि श्रमिकों के खाते में जमा करवाने, चिकित्सा सुविधा के लिए काटा अंशदान ईएसआई को जमा करवाने, श्रमिकों को वेतन भुगतान की लिखित पर्ची देते हुए पारदर्शिता लाने के लिए कहा है। इसकी रिपोर्ट 15 जून के भीतर श्रम मंत्रालय को दिया जाना है। निर्देश के तहत माल गोदामों पर लोडिंग-अन लोडिंग के श्रमिकों व सफाई कार्य में लगे कर्मचारियों को भी सुविधा दिए जाने की बात कही है।

Category: Indian Railways, News

About the Author ()

Comments are closed.