Loco Pilots protested in front of Chairman Railway Board

| January 11, 2018

रेलवे बोर्ड चेयरमैन के सामने लोको कर्मियों ने की नारेबाजी,सोमवार को एसईसीआर जोन के दौरे के लिए रेलवे बोर्ड के चेयरमेन अश्वनि लोहानी बिलासपुर आए हुए थे। इस दौरान लोको पॉयलट…

सोमवार को एसईसीआर जोन के दौरे के लिए रेलवे बोर्ड के चेयरमेन अश्वनि लोहानी बिलासपुर आए हुए थे। इस दौरान लोको पॉयलट अपनी 36 सूत्रीय मांगों के साथ उनसे मुलाकात करने गए । मुलाकात से पहले ऑपरेटिंग के एक अधिकारी से लोको पायलटों की झड़प हो गई। इसी बात को लेकर मंगलवार को लॉबी के सामने पायलटों ने विरोध प्रदर्शन किया। नारेबाजी करते हुए सीनियर डिवीजनल इलेक्ट्रिक इंजीनियर के दुर्व्यवहार के विरुद्ध बार-बार नारेबाजी करते रहे।







मंगलवार को लोको पायलटों की मासिक बैठक भी थी, जिसमें सभी आकर अपनी समस्याएं रखते है। सोमवार को बिलासपुर लोको पायलटों के साथ हुए अभद्रता के बाद संगठन की बैठक विरोध प्रदर्शन में बदल गई। मंगलवार की सुबह से ही बैठक में आने वाले सभी लोको कर्मियों ने विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया। लोको कर्मियों के अनुसार सीनियर डीईई आर बी मिश्रा ने अपने खास लोगों के द्वारा पायलटों से अभद्रता करवाई है। लोको कर्मी अपनी समस्या रेलवे बोर्ड चेयरमेन के सामने रखना चाहते थे, लेकिन उन्हें बार-बार मुलाकात से पहले रोक दिया जाता था। हालांकि अंत में उन्होंनें सीआरबी से मुलाकात की, लेकिन उन्हें सीनियर डीईई का व्यवहार सही नहीं लगा। मंगलवार को रनिंग रूम के इंस्पेक्शन के लिए बिलासपुर से ऑपरेटिंग के डीईई डी एस तोमर पहुंचे हुए थे। लोको पॉयलट उन्हें अपनी समस्या बताने के लिए लॉबी बुला रहे थे, लेकिन अधिकारी ने लोको कर्मियों को रनिंग रूम आने के लिए कहा। अंत तक अधिकारी भी लोको कर्मियों के पास नहीं गए और पॉयलट भी रनिंग रूम नहीं गए।




पोस्टिंग में फर्जीवाड़ा

लोको कर्मियों का आरोप था कि अधिकारी उनकी पोस्टिंग में फर्जीवाड़ा करते है। बिलासपुर जाने के लिए लगभग 400 लोको कर्मियों ने आवेदन दिया हुआ है, लेकिन अधिकारी अपने चहेतों को बिलासपुर में पोस्टिंग दे रहे है। दरअसल बिलासपुर में रेलवेकर्मियों को मिलने वाली सुविधाएं जोन के अन्य स्टेशनों से ज्यादा है। इसी कारण लोको कर्मी बिलासपुर जाने के लिए आवेदन लगाते है, लेकिन यहां अधिकारी नियमों को ताक में रखकर अपने चहेतों को पोस्टिंग दे रहे हैं।




जीएम दौरे का विरोध

लोको कर्मियों ने बताया कि वे जीएम दौरे का शांतिपूर्ण ढंग से विरोध करेंगे। मालूम हो कि जीएम 11 को आने वाले है। इस दिन लॉबी में पायलटों से मिलने के लिए जीएम जाएंगे। इस दौरान रेलवे प्रशासन द्वारा की जा रही मनमानी और अधिकारियों के दुर्व्यवहार को लेकर शिकायत भी करेंगे।

Source:- DB

Category: Indian Railways, News

About the Author ()

Comments are closed.