Female Loco Pilot gets special reprieve from Railway Board

| January 3, 2018

इटारसी। भोपाल रेल मंडल में पदस्थ महिला चालक एवं परिचालकों (लोको पॉयलेट) को रेलवे ने बड़ी राहत दी है। बताया गया है कि महिला कर्मियों की नाइट शिफ्ट में सुरक्षा संबंधी परेशानियों को देखते हुए उनकी ड्यूटी सुबह 6 से शाम 6 बजे तक रखने का फरमान जारी हुआ है। रेलवे सूत्रों के अनुसार सीनियर डीईई (टीआरओ) कार्यालय ने इस संबंध में आदेश जारी किए हैं, हालांकि इसकी अधिकारिक पुष्टि नहीं की गई है।








मेल स्टॉफ पर बढ़ेगा बोझ

यदि यह आदेश लागू हुआ तो रेलवे में कार्यरत मेल स्टॉफ पर नाइट शिफ्ट का दबाब बढ़ेगा, चूंकि कई ट्रेनों में अभी तक रात में महिला चालक-परिचालक ट्रेनें चला रही थीं, लेकिन इस आदेश से मेल स्टॉफ को

अब रात में ज्यादा काम करना होगा, कई बार उन्हें नाइट शिफ्ट में रिलीव मिलता था, लेकिन अब ऐसा नहीं हो पाएगा। सीधे तौर पर करीब 60 गाड़ियों में नाइट शिफ्ट का काम पुरुष चालक ही कर सकेंगे। इसे लेकर दबी जुबान में मेल स्टॉफ विरोध भी जता रहा है, लेकिन महिला सुरक्षा का मामला होने से अधिकारियों ने महिला लोको पॉयलेट की समस्या को गंभीरता से लिया है।








फैक्ट फाइल

पमरे जोन में महिला चालक – 200

भोपाल मंडल में पोस्टिंग – 60

इटारसी लॉबी – 07

मेल चालक – 300

जानकारी नहीं है

मुझे भी इस बात की जानकारी लगी है, लेकिन संबधित विभाग से इस मामले में अधिकारिक जानकारी नहीं मिल सकी। मैं आपको पता कर इसकी जानकारी दूंगा – आईए सिद्दिकी, जनसंपर्क अधिकारी रेल

Category: Indian Railways, News

About the Author ()

Comments are closed.