रेलवे में काम करने वाले कर्मचारी नेताओं की ड्यूटी अब सीवीसी चेक करेगा और मान्यता के चुनाव होंगे जून में

| January 1, 2018

रेलवे यूनियनों की मान्यता के लिए चुनाव अगले साल होगा। 2019 में लोकसभा चुनाव निर्धारित है जिस वजह से देशभर में रेलवे का यूनियन चुनाव 2018 में कराने की है। अगले साल जून तक चुनाव की अधिसूचना जारी होने और अक्टूबर-नवंबर के बीच चुनाव की संभावना जताई जा रही है। 1ईस्ट सेंट्रल रेलवे मेंस कांग्रेस के जोनल महासचिव प्रेमशंकर चतुर्वेदी ने रेलवे कॉलोनी स्थित आवास में बताया कि अप्रैल 2013 में यूनियन का चुनाव हुआ था जिसका कार्यकाल छह वर्षो का है।








इस बार चुनाव में यूनियन अपने कार्यो को लेकर मैदान में उतरेगी। मौके पर एसएन तिवारी, एनके सिन्हा, बीके सिंह व अन्य उपस्थित थे। 1पिछले चुनाव में दूसरे नंबर पर था ईसीआरएमसी1चतुर्वेदी के अनुसार अप्रैल 2013 के चुनाव में मेंस कांग्रेस जोन और धनबाद मंडल में दूसरे नंबर पर था। समस्तीपुर मंडल छोड़कर अन्य चार मंडलों की स्थिति मजबूत थी।




रेलवे में काम करने वाले कर्मचारी नेताओं की ड्यूटी अब सीवीसी चेक करेगा

 रेलवे में ड्यूटी करने वाले कर्मचारी नेताओं को अब सेंट्रल विजिलेंस कमीशन (सीवीसी) छापामार कार्रवाई कर पकड़ेगा। सेंट्रल विजिलेंस कमीशन (सीवीसी) के अनुमान कुमार ने रेलवे के सभी जोनों को पत्र जारी कर कर्मचारी नेताओं की सूची बनाने उनकी ड्यूटी को नियमित ऑनलाइन करने के निर्देश दिए हैं। बताया गया है कि यह कार्रवाई रेल मंत्रालय के निर्देश पर की जा रही है। मंत्रालय तक इस तरह की शिकायतें लंबे समय से पहुंच रहीं थी कि रेलवे के कर्मचारी नेताओं की ड्यूटी तो लगाई जाती है, लेकिन वह ड्यूटी करते नहीं हैं। कर्मचारी नेताओं की ड्यूटी एेसी जगह लगाई जाती हैं जहां पर अधिक काम नहीं होता।




सीवीसीनिदेशक करेगा कार्रवाई की सिफारिश : सभीमंडल जोन कर्मचारी नेताओं की सूची बनाकर उनकी ड्यूटी का चार्ट ऑनलाइन सबमिट करेंगे। सीवीसी टीम चार्ट को देखकर कहीं भी किसी भी कर्मचारी को ड्यूटी पर चेक करेगा। ड्यूटी पर मिलने पर या विभाग में शिकायतें मिलने पर रिपोर्ट सीवीसी निदेशक को देगा निदेशक से रिपोर्ट कार्रवाई की अनुशंसा के साथ रेलवे को भेज दी जाएगी।

Category: Indian Railways, News

About the Author ()

Comments are closed.