रेलवे में कैशलेस टिकट सिस्टम विफल, रिजर्वेशन काउंटर से हटाई जाएंगी पीओएस मशीन

| September 2, 2017

नोटबंदी के बाद कैशलेस को बढ़ावा देने के लिए बुकिंग काउंटर पर प्वाइंट आफ सेल्स (पीओएस) मशीन लगाई गई थी। लेकिन रेलवे में कैशलेस टिकट खरीदने वालों की संख्या बहुत कम है। रेलवे प्रशासन बुकिंग काउंटर से उक्त सिस्टम हटाने जा रहा है। 1नवंबर माह में नोटबंदी हुई थी। उसके बाद सरकार ने डिजिटल भुगतान को बढ़ावा देने के प्रयास किये। दुकानों से लेकर सरकारी दफ्तरों में भुगतान के लिए ई बैकिंग, पेटीएम को बढ़ावा दिया गया। इसके साथ एटीएम कार्ड व क्रेडिट कार्ड से भुगतान करने की व्यवस्था की गई। रेलवे प्रशासन ने पेटीएम से चाय तक का भुगतान करने की व्यवस्था की थी।








बुकिंग काउंटर, रिजर्वेशन काउंटर, पार्सल में पीओएस मशीन लगाने का आदेश दिया था। स्टेट बैंक ने केवल मंडल भर के सभी प्रमुख स्टेशनों के टिकट आरक्षण काउंटरों पर पीओएस मशीन लगाई थी। 1आरक्षण टिकट लेने वाले यात्री एटीएम व क्रेडिट कार्ड से भुगतान कर सकते हैं। शुरूआती दौर में कुछ यात्रियों ने किराये का भुगतान पीओएस मशीन द्वारा किया गया। लेकिन टिकट वापस कराने वाले यात्रियों को रुपये मिलने में परेशानी हो रही थी। इसके अलावा पीओएस मशीन से टिकट बनाने में यात्रियों को तीन मिनट का अधिक समय लगता है। 1इन कारणों से यात्रियों ने पीओएस सिस्टम का प्रयोग करना लगभग बंद कर दिया।




मंडल में दो फीसद से भी कम यात्रियों द्वारा पीओएस सिस्टम से किराये का भुगतान किया जाता है। 1ऐसे में रेल प्रशासन ने पीओएस मशीन बंद कर दी है। प्रवर मंडल वाणिज्य प्रबंधक विवेक शर्मा ने बताया कि आरक्षण काउंटर पर लगी पीओएस मशीन का यात्री ना के बराबर प्रयोग करते हैं। इस लिए आरक्षण काउंटर से पीओएस मशीन हटाया जाएगा। केवल एक काउंटर पर पीओएस मशीन लगी रहेगी। 1जिस यात्री को एटीएम व क्रेडिट कार्ड से टिकट का किराया भुगतना करना होगा, उसे पीओएस मशीन के काउंटर से टिकट खरीदना पड़ेगा।





रेलवे में राजभाषा पखवाड़ा शुक्रवार से शुरू हो गया है। जो 14 अगस्त तक चलेगा। पखवाड़ा का उद्घाटन मंडल रेल प्रबंधक अजय कुमार सिंघल ने किया। उन्होंने रेलवे अधिकारियों व कर्मियों से अधिक से अधिक काम हंिदूी में करने को कहा। यात्री से सभी प्रकार की पत्रचार हंिदूी में करे। एडीआरएम संजीव मिश्र ने बताया कि पखवाड़ा के दौरान हंिदूी में निबंध प्रतियोगिता, कार्यशाला, प्रारूप लेखन प्रतियोगिता, वाद विवाद, कम्प्यूटर पर हंिदूी लिखने की प्रतियोगिता आयोजित किया जाएगा। समापन के अवसर पर हंिदूी में बेहतर काम करने वाले कर्मियों को पुरस्कार दिया जाएगा। 1सेवानिवृत कर्मियों की विदाई : मंडल रेल प्रशासन द्वारा मंडल भर के 31 अगस्त को सेवानिवृत 56 रेल कर्मियों को विदाई दी गई। डीआरएम अजय कुमार सिंघल ने सभी सेवानिवृत कर्मियों को स्मृति चिह्न् देने के साथ भुगतान राशि का चेक व आदि दिया।

railway cashless system fail st

Category: Indian Railways, News

About the Author ()

Comments are closed.