रेलवे अधिकारी सप्ताह में छह दिन काम करेंगे

| August 26, 2017

नए चेयरमैन लोहानी ने पद संभालते ही निर्देश जारी किए, ’ जीएम या बोर्ड सदस्य बुके तथा गुलदस्ते भेंट नहीं कर सकेंगे

औरैया रेल हादसे के बाद रेलवे बोर्ड के नए चेयरमैन अश्विनी लोहानी ने ऐलान किया है कि रेलवे के शीर्ष अधिकारी अब सप्ताह में पांच के बजाय छह दिन काम करेंगे। साथ ही बड़े से बड़े अधिकारी के स्वागत में कोई भी अधिकारी न तो जाएगा और न ही बुके और गुलदस्ता भेंट करेगा।पदभार संभालते ही चेयरमैन के इस निर्देश की सूचना रेलवे अफसरों के सीयूजी नंबर और व्हाट्सअप पर भेज दी गई। अफसरों ने तर्क दिया कि लोहानी अपने डीआरएम कार्यकाल में भी अलग मिजाज से काम करते थे और वह विभागीय कर्मचारियों और अधिकारियों के हमेशा हितैषी रहे हैं।अभी कुछ को छोड़ अन्य सभी अधिकारी हफ्ते में पांच दिन ही काम करते थे और शीर्ष अधिकारी के आने पर स्थानीय अफसर रिसीव करते थे। स्टेशन अधीक्षक को ही बड़े अफसरों को रिसीव करने के लिए अधिकृत किया गया है।








अश्विनी लोहानी ने संभाला कार्यभार, कहा- रेलवे की सुरक्षा, सफाई पर देंगे ध्यान

एयर इंडिया के सीएमडी अश्विनी लोहानी ने रेलवे बोर्ड के चेयरमैन के तौर पर अपना कार्यभार संभाल लिया है। लोहानी ने कहा कि उनका फोकस सुरक्षा, सफाई और स्टेशन की स्थिति को सुधारने में होगा। पत्रकारों के साथ बातचीत में उन्होंने कहा ‘हम रेलवे में भ्रष्टाचार और वीआईपी कल्चर को खत्म करने के लिए भी काम करेंगे। रेलवे में बहुत ताकत है और हम इन्हीं ताकतों का इस्तेमाल कर इसे आगे लेकर जाएंगे।’




लोहानी ने यह भी कहा कि भारतीय रेलवे के चेयरमैन के पद पर नियुक्त होना एक भावनात्मक पल है। उन्होंने कहा ‘देश की जनता की हमसे और भारतीय रेलने से काफी उम्मीदें हैं। हम कठिन मेहनत करेंगे और अधिक सुधार करने का प्रयास करेंगे।’

गौरतलब है कि बुधवार को अशोक कुमार मित्तल ने रेलवे बोर्ड चेयरमैन के पद से इस्तीफा दे दिया था। उनकी जगह एयर इंडिया के सीएमडी अश्विनी लोहानी को नया चेयरमैन नियुक्त किया गया। स्थायी सीएमडी की नियुक्ति होने तक पेट्रोलियम मंत्रालय में अतिरिक्त सचिव राजीव बंसल एयर इंडिया के सीएमडी का काम देखेंगे। बंसल की नियुक्ति तीन महीने के लिए की गई है।




अश्विनी लोहानी मूल रूप से रेलवे सेवा (मैकेनिकल इंजीनियरिंग) के अधिकारी हैं, जिन्हें विशेष योग्यताओं के मद्देनजर सचिव का दर्जा देकर एयर इंडिया का चेयरमैन बनाया गया था। इससे पहले वे मध्य प्रदेश राज्य पर्यटन विकास निगम के निदेशक थे। वह दिल्ली के डीआरएम के अलावा आइटीडीसी के सीएमडी भी रह चुके हैं। कई डिग्रियों के स्वामी लोहानी को उनकी विशिष्ट प्रबंधकीय योग्यताओं के लिए जाना जाता है। अपनी विशिष्ट कार्यशैली के कारण उन्होंने सभी जगहों पर अलग छाप छोड़ी। एयर इंडिया के सीएमडी के तौर पर उन्होंने इसे आपरेटिंग लाभ की स्थिति में लाने के अलावा इसकी सेवाओं में सुधार के सफल प्रयास किए।

Category: Indian Railways, News

About the Author ()

Comments are closed.