मुजफ्फरनगर में कलिंग-उत्कल एक्सप्रेस दुर्घटनाग्रस्त, 50 यात्रियों की मौत और 80 घायल, ट्रैक के पास बने मकान भी ट्रेन की चपेट में आए

| August 20, 2017

पुरी से हरिद्वार जा रही कलिंग उत्कल एक्सप्रेस शनिवार शाम मुजफ्फरनगर जिले में खतौली के पास दुर्घटनाग्रस्त हो गई। ट्रेन की कई बोगियां एक दूसरे के ऊपर चढ़ गईं और कई पटरी से उतरी गईं। चश्मदीदों ने हादसे में 50 से अधिक लोगों की मौत की बात कही है, हालांकि आधिकारिक पुष्टि 23 मौतों की हुई है। 80 से अधिक लोग घायल हुए हैं। रेलवे लाइन के पास बने कुछ मकान भी बोगियों की चपेट में आए हैं। रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा ने देर रात घटनास्थल पर खतौली पहुंचे और मुआवजे का ऐलान किया।

केन्द्रीय रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने इस हादसे में मरने वाले यात्रियों के परिवारवालों को 3.5 लाख रुपये और घायलों को 50 हजार रुपये का मुआवजा देने का ऐलान किया है। वहीं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मरने वाले यात्रियों के परिवार को दो लाख रुपये और घायलों के परिवार को 50 हजार रुपये का मुआवजा राशि देने की घोषणा की है। जानकारी मिलते ही केन्‍द्रीय राज्‍यमंत्री संजीव बालियान डीएम, एसएसपी के साथ मौके पर पहुंच गए हैं। ट्रेन की चपेट में रेलवे लाइन के आसपास रहने वाले लोग भी आए हैं। रेलवे ने हेल्पलाइन नंबर 9760534054/ 5101 भी जारी कर दिया है। बताया जा रहा है कि हादसे के पीछे आतंकियों की साजिश हो सकती है। इसकी जांच के लिए एटीएस की टीम रवाना हो चुकी है।








ट्रेन की तीन बोगियां बुरी तरह क्षतिग्रस्त हुई हैं और 10 डिब्बे डिरेल हो गए हैं। हादसा 5:50 बजे खतौली की जगत कालोनी में हुआ। ट्रेन कुछ ही देर पहले खतौली स्टेशन से आगे को रवाना हुई थी। अचानक तेज आवाज के साथ बोगियां एक दूसरे पर चढ़ गईं और कई डिरेल हो गईं। चीख-पुकार मच गई। हादसा होते ही आसपास रहने वाले लोग मदद में दौड़ पड़े। मुजफ्फरनगर के पुलिस एवं प्रशासनिक अधिकारी राहत टीमों के साथ मौके पर पहुंचकर बचाव में जुट गए। केन्द्रीय राज्यमंत्री संजीव बालियान भी वहां आ गए।

मौके पर कितने ही लोग लहूलुहान हालत में पड़े नजर आ रहे हैं। चीख-पुकार मची है। मेरठ से राहत एवं बचाव दल मौके पर रवाना हो गए हैं। बता दें कि पिछले साल पुखरायां और दिसंबर में रूला रेल हादसे के पीछे भी आतंकी साजिश सामने आई थी। बता दें कि घायलों को आसपास के अस्‍पतालों में भर्ती कराया गया है। ज्‍यादातर स्‍लीपर कोच दुर्घटनाग्रस्‍त हुए हैं। वहीं, दो बोगी तहस-नहस हो गई है। इसके अलावा एसी बोगी भी पटरी से उतरी हैं। ट्रेन हादसे के बाद दिल्ली से देहरादून की ओर जाने वाली कई ट्रेनों को बीच में रोका गया।

मेरठ-देहरादून ट्रैक पर ट्रेनों को रोक दिया गया। देर शाम एनडीआरएफ की टीम पहुंचकर राहत-बचाव कार्य में जुट गई हैं। चश्मदीदों का कहना है कि ट्रेन दुर्घटना में 50 से ज्यादा लोग मारे गए हैं। घायलों की तादाद 80 से 100 के बीच बताई जा रही है। हालांकि डीजीपी और रेलवे ने 23 लोगों की मौत और 40 के घायल होने पुष्टि की है। मौके पर मौजूद अफसर अंधेरा होने की वजह से न अधिक मौतों से इनकार कर रहे और पुष्टि कर रहे हैं।




मलबे में और भी लोग दबे हो सकते हैं। मृतक संख्या बढ़ने की आशंका है। मृतकों की शिनाख्त के प्रयास जारी हैं। देर रात तक दुर्घटनाग्रस्त बोगियों को ट्रैक से हटाने का काम जारी था। अंधेरा होने से बचाव कार्य में बाधा आ रही है। मौके पर बिजली एवं सुरक्षा के इंतजाम करने के निर्देश दिए हैं। आसपास के जिलों से डाक्टरों की टीम भी मौके पर भेज दी गई हैं।सूचना पर मुजफ्फरनगर के पुलिस एवं प्रशासनिक अधिकारी राहत टीमों के साथ मौके पर पहुंचकर बचाव में जुट गए हैं। मेरठ से भी टीमें मौके पर भेज दी गई हैं। तमाम घायलों को आसपास के अस्पतालों में  भेजा गया है। चश्मदीदों ने ट्रेन दुर्घटना में कई लोगों के मारे जाने की बात कही है। यात्री बोगियों के बीच फंसे नजर आ रहे हैं।




रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने उत्तर प्रदेश के मुज़फ्फरनगर जिले में हुई रेल दुर्घटना के जांच के आदेश दिए हैं। उन्होंने शनिवार को कहा कि किसी भी चूक की दशा में जिम्मेदार लोगों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाएगी। वहीं यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी मुजफ्फरनगर रेल दुर्घटना की जांच के आदेश दिए हैं। रेल दुर्घटना कहीं आतंकी साजिश तो नहीं, इस पहलू से यूपी एटीएस की टीम जांच करेगी। मुख्यमंत्री ने कैबिनेट मंत्री सतीश महाना और राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार सुरेश राणा को जल्द से जल्द मौके पर पहुंचने के निर्देश दिए हैं।

टाइमलाइन
5:46 बजे: उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में कलिंग उत्कल एक्सप्रेस दुर्घटनाग्रस्त हुई।
6:46 बजे: एनडीआरएफ की टीम बचाव कार्य के लिए तैयार।
6:56 बजे:  रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने वरिष्ठ अधिकारियों को मौके पर भेजने के निर्देश दिए।
7 बजे: यूपी एटीएस और मेडिकल वैन रवाना।
7.05 बजे: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने घटना पर अफसोस जताया।
7:15 बजे:  रेलवे ने हेल्पलाइन नंबर 9760534054/ 5101 जारी किया।
7:17 बजे: सुरेश प्रभु ने जांच के आदेश दिए और दोषियों पर कड़ी कार्रवाई की बात कही।
7:28 बजे: घटनास्थल पर बचाव कार्य के लिए एंबुलेंस पहुंची।
7:58 बजे: लालू प्रसाद यादव ने रेल मंत्री का इस्तीफा मांगा।
8:14 बजे: मोदी ने ट्वीट कर हादसे में मारे गए लोगों के प्रति संवेदना प्रकट की।
8:35 बजे: रेलवे ने मृतकों के लिए 3.5 लाख रुपये, घायलों के लिए 50 हजार रुपये और मामूली रूप से घायलों के लिए 25 हजार रुपये के मुआवजे की घोषणा की।
10:13 बजे:  यूपी के प्रधान सचिव (गृह) ने आतंकी घटना की आशंका जताई।

– 14681, नई दिल्ली-जालंधर इंटर सिटी गाजियाबाद-कुरुक्षेत्र-अंबाला होकर जाएगी।
– 12055, नई दिल्ली-देहरादून जनशताब्दी एक्सप्रेस हापुड़, मुरादाबाद के रास्ते जाएगी।
– 14645, दिल्ली-जम्मूतवी शालीमार एक्सप्रेस गाजियाबाद-कुरूक्षेत्र-अंबाला होकर जाएगी।
– 12903, मुम्बई सेन्ट्रल-अमृतसर गोल्डन टेम्पल मेल नई दिल्ली-कुरूक्षेत्र-अंबाला होकर जाएगी।
– 18237, विलासपुर-अमृतसर छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस नई दिल्ली-कुरूक्षेत्र-अंबाला होकर जाएगी।
– 12205, नई दिल्ली-देहरादून नंदा देवी एक्सप्रेस वाया शामली-टपरी होकर जाएगी।
– 12018, देहरादून-नई दिल्ली शताब्दी एक्सप्रेस वाया शामली होकर जाएगी।
– 19020, देहरादून-बांद्रा एक्सप्रेस वाया शामली -हजरत निजामुद्दीन होकर जाएगी।
– 19032, हरिद्वार-अहमदाबाद योग एक्सप्रेस वाया शामली-दिल्ली शाहदरा होकर जाएगी।
– 14512, सहारनपुर-इलाहाबाद नौचंदी एक्सप्रेस, सहारनपुर-मेरठ के बीच रद्द रहेगी, मेरठ सिटी से इलाहाबाद जाएगी।

2016 और 2017 के बड़े रेल हादसे

2016 में ट्रेन हादसे
1 मई 2016: फैजाबाद दिल्ली एक्सप्रैस हापुड़ के पास पटरी से उतरी, बाल-बाल बचे यात्री, कोई हताहत नहीं.
6 मई 2016: चेन्नई सेंट्रल-तिरुवंतपुरम सेंट्रल सुपरफास्ट एक्सप्रेस की एक अन्य ट्रेन से टक्कर, करीब 7 लोग घायल
20 नवंबर, 2016: कानपुर के पुखरायां में इंदौर-राजेन्द्र नगर एक्सप्रेस पटरी से उतरी, 150 से ज्यादा लोगों की मौत, 260 घायल
28  दिसंबर, 2016: कानपुर के पास अजमेर-सियालदाह एक्सप्रेस के 15 कोच पटरी से उतरे, 40 से ज्यादा घायल

2017 के हादसे 
21 जनवरी 2017: कुनेरू के पास जगदलपुर-भुवनेश्वर हीराखंड एक्सप्रेस पटरी से उतरी, 40 से ज्यादा की मौत, 68 घायल
7 मार्च, 2017: जबरी रेलवे स्टेशन के पास भोपाल-उज्जैन पैसेंजर ट्रेन में बम फटा, 10 घायल
30 मार्च, 2017: यूपी के महोबा में महाकौशल एक्सप्रेस पटरी से उतरी, 50 से ज्यादा लोग घायल
15 अप्रैल 2017: मेरठ-लखनऊ राज्यरानी एक्सप्रेस के आठ डिब्बे उत्तर प्रदेश में रामपुर के पास पटरी से उतरे, करीब 10 लोग घायल

ue-st
Source:- Hindustan

Category: Indian Railways, News

About the Author ()

Comments are closed.