Railway to takes extra measures to make trains run on time

| July 15, 2017

लेटलतीफ ट्रेनों के इंजन में बैठेंगे अधिकारी, कंट्रोल से भी नजर

ट्रेनों की लेटलतीफी से जुड़े मुद्दे को आपके अपने अखबार हिन्दुस्तान द्वारा उठाए जाने के बाद दानापुर रेल मंडल प्रशासन ने समयबद्धता के लिए नई तैयारी की है। जो ट्रेनें लगातार लेट हो रही हैं, उनके इंजन में अधिकारी ड़्यूटी बजाएंगे। इंजन में मौजूद अधिकारी आरंभिक स्टेशन से गंतव्य तक लेटलतीफ हो रहीं ट्रेनों की मॉनिटरिंग करेंगे कि आखिर ट्रेन लेट कहां और क्यों होती है। इधर ट्रेनों का पटरियों पर जिस समय में अधिक बोझ होगा उस समय कंट्रोल में अधिकारियों की विशेष ड्यूटी लगाई जाएगी।








डीआरएम आरके झा ने संबंधित अधिकारियों को रियल टाइम मॉनिटरिंग पर विशेष ध्यान देने की बात कही है। दानापुर पीआरओ संजय कुमार प्रसाद ने बताया कि लोको पायलटों को विभिन्न रेलखंडों में अधिकतम अनुमान्य स्पीड से ट्रेनों को चलाने की छूट दी गई है जिससे परिचालन पर सकारात्मक असर दिखेगा। डीआरएम ने कहा कि परिचालन की स्थिति सुधारने के लिए इस विभाग से जुड़े कर्मठ कर्मियों को पुरस्कृत किया जा रहा है।




डीआरएम ने कहा कि ट्रेनों को समयबद्ध चलाने हेतु मालगाड़ियों के रेकों को यथासंभव मेन लाइन के बजाय लूप लाइन में रखा जा रहा है ताकि मेल एक्सप्रेस गाड़ियों का परिचालन निर्बाध रूप से किया जा सके। कहा कि उचित योजना बनाकर मालगाड़ियों को उपलब्ध मार्ग से चलाया जा रहा है ताकि मेल एक्सप्रेस ट्रेनों के परिचालन को प्रभावित होने से बचाया जा सके। यही वजह है कि जून 2017 के दौरान मेल एक्सप्रेस गाड़ियों का समय पालन में जून 2016 में दर्ज 73.2 प्रतिशत की तुलना में 12.58 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 82.41 प्रतिशत दर्ज की गई।





 राजेन्द्रनगर टर्मिनल पर अक्टूबर से प्रीमियम पार्किंग की सुविधा मिलने लगेगी। परिसर में पहले से बनी पार्किंग व कोचिंग कॉम्प्लेक्स के बीच में खाली जगह को पार्किंग बनाई गई गै। एक करोड़ 20 लाख की लागत से परिसर का विस्तार दिया गया है। रेलवे के एक अधिकारी ने बताया कि इस हफ्ते इंजीनियरिंग विभाग की ओर से परिसर कॉमर्शियल विभाग को सौंप दिया जाएगा। टेंडर की प्रकिया को पूरा करने में सितंबर अंत तक का समय लगेगा। नई पार्किंग से प्लेटफॉर्म संख्या एक पर सीधा रास्ता बनाया गया है। दो पहिया, चार पहिया व अन्य छोटे कॉमर्शियल वाहनों के लिए भी अलग लेन बनी हैं। इससे ट्रेनों की आवाजाही के समय पार्किंग में जाम की स्थिति नहीं बनेगी।

रेलवे की ओर से नई पार्किंग व पुरानी पार्किंग का समेकित रूप से टेंडर जारी किया जाएगा। इस बार पार्किंग का रेट ज्यादा तय किया जाना है कि जिससे पार्किंग शुल्क में बढ़ोतरी के आसार हैं। हालांकि यह बढ़ोतरी कितनी होगी इस परमुहर लगनी बाकी है। सूत्रों की मानें तो प्रीमियम पार्किंग का रेट दोगुना तक हो सकता है। यानी सामान्य पार्किंग में तीन घंटे के लिए चार पहिया वाहनों से 25 रुपए वसूले जाएंगे वही प्रीमियम पार्किंग में 50 रूपए तक शुल्क वसूला जाएगा।

train-late-st

Category: Indian Railways, News

About the Author ()

Comments are closed.