Indian Railway to start privatization of Railway Stations

| June 10, 2017

कानपुर रेलवे स्टेशन की 200 तो इलाहाबाद की 150 करोड़ में होगी नीलामी

नई दिल्ली, जेएनएन। केंद्र सरकार ने देश के 23 रेलवे स्टेशनों को निजी हाथों में सौंपने का फैसला किया है। इस सूची में राजस्थान का उदयपुर व यूपी के दो रेलवे स्टेशन भी शामिल हैं। पहला कानपुर सेंट्रल और दूसरा इलाहाबाद जंक्शन। आपको बता दें कि 28 जून को ऑनलाइन नीलामी होनी है।

जो व्यक्ति या कंपनी नीलामी में बोली लगाने के इच्चुक हैं वे रेलवे की वेबसाइट पर जाकर स्टेशनों की बोली लगा सकते हैं। कानपुर रेलवे स्टेशन की कीमत 200 करोड़ रुपए और इलाहाबाद जंक्शन की 150 करोड़ रुपए रखी गई है। नीलामी के दो दिन बाद 30 जून को इसका ऐलान होगा।









स्टेशन का विकास अंतरराष्ट्रीय मानको के अनुरूप होगा। यहां तीन सितारा होटल, मॉल, लजीज व्यंजनो के स्टाल और मनोरंजन के साधन विकसित किए जाएंगे। सबसे अहम बात यह कि यह सब काम निजी कंपनी कराएगी। इसके लिए सेट्रल स्टेशन निजी कंपनी के हवाले किया जाएगा, 45 वर्षो की लीज पर। कंपनी यहां विकास पर दो सौ करोड़ से ज्यादा राशि खर्च करेगी। हालांकि, इसके लिए अभी थोड़ा इंतजार करना होगा।




23 स्टेशनो का किया गया है चयन

रेल मंत्रालय ने देश के 23 स्टेशनो को अंतरराष्ट्रीय मानक के अनुरूप विकसित करने के लिए चयनित किया है। इसमे उलार मध्य रेलवे का कानपुर सेट्रल स्टेशन और इलाहाबाद स्टेशन शामिल है। पीपीपी माडल के तहत सेट्रल स्टेशन का पुर्ननिर्माण किया जाना है।




यह है निर्णय
रेल मंत्रालय कांट्रेक्ट बेस पर स्टेशन फैसिलिटेशन मैनेजरों की नियुक्ति कर रहा है। ये स्टेशन का विकास, पुनर्निर्माण व कामर्शियल डेवलपमेट करेगे।

बनाएगी आय के साधन
कंपनी आय के साधन विकसित करेगी। स्टेशन की खाली जमीन पर होटल, मॉल और खानपान के स्टाल के अलावा मनोरंजन के साधन भी तैयार करेगी। हालांकि पुरानी स्टेशन बिल्डिंग मे कोई निर्माण नही कर सकेगी।

आय में रेलवे का हिस्सा
कंपनी और रेलवे के बीच होने वाली आय मे बंटवारा होगा। हालांकि अभी हिस्से का फीसद तय नहीं है।

यह काम रेलवे के पास :

ट्रेन संचालन, पार्सल, टिकटिंग, तकनीकी, परिचालन, लॉ एंड आर्डर।

कंपनी के काम :

पूछताछ, प्लेटफार्म, यूटीएस व होटल-मॉल आदि का संचालन।

स्टेशन की भूमि :

वाणिज्यिक विकास के लिए छह एकड़ और 2.71 एकड़ के दो प्लाट पर होंगे काम।

रेल कर्मचारियो पर असर
उलार मध्य रेलवे के पीआरओ अमित मालवीय का कहना है कि सेंट्रल स्टेशन के पुनर्निर्माण के लिए 28 जून तक टेंडर डालने की अंतिम तिथि है। 30 जून को टेंडर खोले जाने हैं। तब पता चलेगा कि कितने लोग आए हैं। उसके बाद उनका आंकलन किया जाएगा।

private stations

 

Category: Indian Railways, News, Uncategorized

About the Author ()

Comments are closed.