Only healthy staff in Railways will get promotions

| May 27, 2017

रेलवे में स्वस्थ कर्मचारी ही ले पाएंगे तरक्की

railway locomotives

रतलाम। अगर आप रेलवे कर्मचारी है व आपकी तरक्की होने वाली है तो एक बार स्वास्थ्य की जांच करा ले। रेलवे ने 40 की उम्र के बाद या तरक्की के पूर्व स्वास्थ्य बेहतर की शर्त को अनिवार्य कर दिया है। विभिन्न तरह की जांच में अगर आप पूर्ण रूप से स्वस्थ्य नहीं पाए गए तो आपको तरक्की नहीं मिलेगी। मतलब साफ है कि आप रेलवे में बडे़ पद पर काम के लायक नहीं माने जाएंगे। रेल संगठन इस आदेश को निजीकरण की दिशा में एक ओर कदम बता रहे हैं।








जरूरी है इनका पालन
अगर ऑथराइज्ड फिजिशियन किसी तरह की जांच करने को कहता है तो उसे भी अवश्य रूप से कराना होगा। दरअसल रेलवे का मानना है कि अनफिट लोगों के कारण काम प्रभावित होता है। बीमारी की आड़ में ज्यादातर अधिकारी या तो छुट्टी पर रहते हैं या काम में ध्यान नहीं देते हैं। इसीलिए रेलवे ने इस तरह का आदेश जारी किया है। बता दें कि इस आदेश के तहत रेलवे बोर्ड के सदस्यों के साथ ही महाप्रबंधक, मंडल प्रबंधक, एक्जिक्यूटिव डॉयरेक्टर व डायरेक्टर भी आएंगे।
ये निजीकरण की ओर बढ़ता कदम है




असल में ये निजीकरण करना चाहते है। बीमारी के नाम पर पहले रेलवे कर्मचारी को तरक्की नहीं देंगे बाद में रेलवे से बाहर कर देंगे। इसका देशव्यापी विरोध किया जाएगा।
– एसबी श्रीवास्तव, मंडल मंत्री, वेस्टर्न रेलवे एम्प्लाईज यूनियन
इन्होंने जारी किया आदेश




रेलवे के एक्जीक्यूटिव डायरेक्टर हेल्थ जनरल डॉ.अमिताभ दत्ता की तरफ से जारी पत्र में लिखा है कि अप्रेजल भरने के पहले मेडिकल जांच जरूर करा ले। दिशानिर्देश में यह भी कहा गया है कि मार्च-अप्रैल में हर साल मेडिकल चैकअप कराना अनिवार्य होगा। पत्र में कहा गया है कि ब्लड टेस्ट जिसमें एचबी प्रतिशत, टीएलसी, डीएलसी, एफबीएस, एचबी, एएलसी, लिपिड प्रोफाइल,एलएफटी, केएफटी, ईसीजी यूरिन की जांच रिपोर्ट आवश्यक है।

Source:- Patrika

Category: Indian Railways, News

About the Author ()

Comments are closed.