Railway to change rules for Departmental Exams for promotions

| May 25, 2017

रेलवे के ट्रैकमैन और खलासी भी अब लोको पायलट और गार्ड बन सकेंगे। इसके लिए उन्हें सामान्य विभागीय प्रतियोगी परीक्षा (जीडीसीई) उत्तीर्ण करना होगा। रेलवे भर्ती सेल ने कंप्यूटर आधारित परीक्षा की तिथि निश्चित कर दी है। परीक्षा में पूवरेत्तर रेलवे के अभ्यर्थी ही प्रतिभाग करेंगे। 1 11, 17 और 18 जून को विभिन्न केंद्रों पर यह परीक्षा आयोजित की जाएगी। फिलहाल, वाणिज्य लिपिक, टिकट संग्राहक, टिकट परीक्षक तथा सहायक स्टेशन मास्टर के पदों को परीक्षा से बाहर रखा गया है।








ऐसे में अब लोको पायलट, गार्ड, टेक्निशियन और जेई के लिए परीक्षा आयोजित की जा रही है। वर्तमान में कटेगरी द्वितीय, तृतीय और चतुर्थ के लिए ही परीक्षा आयोजित की जाएगी। अभ्यर्थी पूवरेत्तर रेलवे की वेबसाइट पर अपना प्रवेश पत्र प्राप्त कर सकते हैं। अभ्यर्थियों को प्रवेश पत्र के साथ परीक्षा केंद्र पर एक मान्य फोटो पहचान पत्र लाना अनिवार्य है। यदि कोई अभ्यर्थी बिना प्रवेश पत्र अथवा बिना फोटो पहचान पत्र के परीक्षा केंद्र पर उपस्थित होता है तो उसे परीक्षा में शामिल होने की अनुमति नहीं दी जाएगी। यदि किसी अभ्यर्थी ने एक से अधिक कैटेगरी के लिए आवेदन किया है तो अलग-अलग कैटेगरी के लिए उसे अलग-अलग प्रवेश पत्र डाउनलोड करना होगा।




परीक्षा में प्रश्नों का स्तर प्रत्येक केटेगरी के लिए निर्धारित शैक्षिक योग्यता के अनुरूप होगा।एनई रेलवे मजदूर यूनियन (नरमू) की पहल पर ही रेलवे प्रशासन सामान्य विभागीय प्रतियोगी परीक्षा आयोजित करा रहा है। 1लेकिन, इस परीक्षा से वाणिज्य लिपिक, टिकट संग्राहक और सहायक स्टेशन मास्टर संवर्ग को बाहर कर दिया गया है। मामले को गंभीरता से लेते हुए यूनियन के महामंत्री केएल गुप्त ने कहा है कि महाप्रबंधक स्तर पर आयोजित स्थाई समझौता वार्ता के चलते यह अधिसूचना जारी की गई है। 1अभी कई संवर्गो में वेतन विसंगतियां हैं और कई संवर्ग के वेतन को विलय किया जाना है। जिसके कारण इस तरह का आदेश स्थानीय प्रशासन द्वारा निकाला गया है। वेतन विसंगतियों का कार्य पूरा होते ही वाणिज्य लिपिक, टिकट संग्राहक और सहायक स्टेशन मास्टर संवर्ग की परीक्षा भी कराई जाएगी।





trackman-khalasi-fb

Category: Indian Railways, News

About the Author ()

Comments are closed.