Budget 2017-18 – Complete Income Tax Guide for each Income Group

| February 1, 2017

जानें, टैक्स स्लैब में बदलाव से किसकी भरेगी जेब और किसे चुकाना होगा ज्यादा

नई दिल्ली
वित्त मंत्री अरुण जेटली ने बुधवार को पेश किए गए बजट में टैक्स की दरों में लोअर मिडिल क्लास के लोगों को बड़ी राहत दी है। जानें, किन व्यक्तिगत टैक्सपेयर्स को देना होगा ज्यादा टैक्स और किन्हें मिलेगी राहत…

1. वित्त मंत्री अरुण जेटली ने 2.5 लाख से 5 लाख तक की आय पर टैक्स की दर को 5 पर्सेंट कर दिया है, पहले यह 10 फीसदी थी। इस बदलाव के बाद अब 3.5 लाख रुपये की टैक्सेबल इनकम (सेक्शन 80सीसी के तहत मिलने वाली छूटों को हटाने के बाद) वाले व्यक्ति को सिर्फ 2575 रुपये चुकाने होंगे, पहले उन्हें 5150 रुपये अदा करना पड़ता था।

2. पांच लाख से 50 लाख रुपये तक की आय वाले टैक्सपेयर्स को 12875 रुपये कम चुकाने होंगे।

3. हालांकि सरकार ने छोटे टैक्सपेयर्स को जो राहत दी है, उसकी भरपाई बड़े टैक्सपेयर्स से करने की तैयारी भी कर ली है। सालाना 50 लाख से 1 करोड़ रुपये तक आय वाले लोगों को 30 पर्सेंट टैक्स के साथ ही 10 पर्सेंट सरचार्ज चुकाना होगा। यह चार्ज अदा किए जाने वाली टैक्स की राशि पर लगेगा। उदाहरण के तौर पर यदि किसी व्यक्ति की कुल आय 60 लाख रुपये होती है तो उसे अतिरिक्त सरचार्ज समेत 1,45,024 रुपये टैक्स के तौर पर अदा करने होंगे। अब तक ऐसे लोगों को 15,91,865 रुपये चुकाने होते थे, लेकिन अब उन्हें 17,36,889 रुपये चुकाने होंगे।

4. सालाना 1 करोड़ से अधिक कमाई वाले लोगों को 15 पर्सेंट सरचार्ज चुकाना होगा। पहले ही भी इस आयवर्ग के लिए सरचार्ज और टैक्स की यह दर लागू थी। हालांकि सेस खत्म होने और सरचार्ज लागू किए जाने के चलते उन्हें 14806 रुपये की मामूली बचत होगी। उदाहरण के तौर पर यदि कोई व्यक्ति 1.2 करोड़ रुपये की सालाना आय पर पहले 39,80,512 रुपये चुकाता था तो उसे अब 39,65,706 रुपये ही चुकाने होंगे।

टेबल के जरिए समझें किस आयवर्ग को होगा क्या फायदा…

Source:- Economic Times

 

Category: Income Tax, News

About the Author ()

Comments are closed.